Divya Himachal Logo Jun 29th, 2017

प्रदेश को मिलेंगे 1500 सी एंड वी

सरकार ने दी मंजूरी; अनुबंध आधार पर बैचवाइज, आयोग के जरिए भरे जाएंगे पद

newsशिमला  – प्रारंभिक शिक्षा विभाग की ओर से जल्द की विभिन्न श्रेणी के 1500 पद भरे जाएंगे। इन पदों को भरने के लिए सरकार ने मंजूरी प्रदान की है। इन 1500 पदों में से 50 फीसदी भर्ती बैचवाइज और 50 फीसदी भर्तियां आयोग द्वारा की जाएंगी। इन पदों के तहत भाषा अध्यापक, फिजिकल एजुकेशन टीचर, ड्राइंग मास्टर की भर्ती की जानी है। गुरुवार को शिक्षा निदेशालय में बैठक आयोजित की गई। इस बैठक की अध्यक्षता प्रारंभिक शिक्षा विभाग के निदेशक मनमोहन शर्मा ने की। बैठक के दौरान जहां उपनिदेशकों को आगे की  योजना तैयार करने को कहा गया, वहीं शिक्षकों के पदों की भर्ती की प्रक्रिया को तय समय में पूरा करने के निर्देश जारी किए गए हैं। इसके लिए हर जिला में तीन कमेटियां बनाई गई हैं। सोमवार तक  विभाग रोजगार कार्यालयों को रिक्वीजीशन भेजेगा और इसके बाद बैचवाइज भर्ती शुरू कर दी जाएगी।  इसमें जिला बिलासपुर में शास्त्री के 65, भाषा अध्यापक के 33, शारीरिक शिक्षा अध्यापक (पीईटी) के 18, ड्राइंग मास्टर (डीएम) के 22 और कुल 138 पद भरे जाएंगे। जिला चंबा में शास्त्री के 18, एलटी के 26, पीईटी के 25, डीएम के 21 और कुल 90 पद भरे जाएंगे। जिला हमीरपुर में शास्त्री के 52, एलटी के 43, पीईटी के 20, डीएम के 28 और कुल 143, जिला कुल्लू में 137, कांगड़ा में शास्त्री के 76, एलटी के 97, पीईटी के 57, डीएम के 31 व कुल 261 व किन्नौर में शास्त्री के पांच, एलटी के तीन पीईटी के छह, डीएम का एक, कुल 15, लाहुल स्पीति में एलटी के दो, डीएम के एक, पीईटी के तीन, कुल छह, मंडी में शास्त्री के 64, एलटी के 79, पीईटी के 31, डीएम के 24 कुल 198, शिमला में शास्त्री के 45, एलटी के 54, पीईटी के 18, डीएम के 19 व कुल 133, सिरमौर में शास्त्री के 21, एलटी के 56, पीईटी के 24, डीएम के 28 कुल 129, सोलन में शास्त्री के 44, एलटी के 34, पीईटी के 16, डीएम के 25 कुल 119 व ऊना में शास्त्री के 45, एलटी के 42, पीईटी के 18, डीएम के 26 व कुल 131 पद भरे जाने हैं।

जेबीटी के पद भी बैचवाइज

जेबीटी के करीब साढ़े सात सौ पदों पर भर्ती की जानी है। इनमें से भी 50 फीसदी बैचवाइज आधार पर भरे जाएंगे।

April 21st, 2017

 
 

पोल

क्रिकेट विवाद के लिए कौन जिम्मेदार है?

View Results

Loading ... Loading ...
 
Lingual Support by India Fascinates