Divya Himachal Logo Jul 25th, 2017

मंडी मास्टर में प्लेयर ब्लास्टर

छोटी काशी में ‘दिव्य हिमाचल फुटबाल लीग-2017’ के ट्रायल, रिकार्ड 142 ने टीम में एंट्री को बहाया पसीना

NEWSमंडी— फुटबाल के अच्छे दिनों की शुरुआत हिमाचल में हो गई है और इसकी झलक मंडी में हुए ‘दिव्य हिमाचल फुटबाल लीग-2017’ के ट्रायल में देखने को मिल गई है। ‘दिव्य हिमाचल मीडिया ग्रुप’ की ओर से  फुटबाल लीग में पठानिया मंडी मास्टर की टीम चुनने के लिए मंडी के ऐतिहासिक पड्डल मैदान और बहुतकनीकी कालेज सुंदरनगर के मैदान में ट्रायल लिए गए, जिसमें दोनों जगहों पर 142 खिलाडि़यों ने ट्रायल दिया। मंडी में 78 होनहार खिलाडि़यों ने ट्रायल में भाग लिया तो वहीं सुंदरनगर में 64 प्रतिभावान खिलाडि़यों ने ट्रायल में भाग लिया। मंडी और सुंदरनगर दोनों जगहों पर नए खिलाडि़यों के साथ ही नेशनल खेल चुके दो दर्जन से अधिक खिलाडि़यों ने ट्रायल दिया। यही वजह है कि अब निर्णायक मंडल के लिए मंडी की टीम चुनना मुश्किल हो गया है। रजिस्ट्रेशन के तुरंत बाद पड्डल मैदान में फुटबाल उछलना शुरू हो चुके थे। इसके बाद ट्रायल में 78 खिलाडि़यों ने भाग लिया और मैदान पर पसीना बहाने का सिलसिला चलता रहा। मंडी हुए ट्रायल में पठानिया मंडी मास्टर के ऑनर और समाजसेवी हेमराज पठानिया और टीम संरक्षक सुरेंद्र पाल ने मुख्य अतिथि के रूप शिरकत की, जबकि जिला खेल अधिकारी मंडी प्रदीप धीमान इस दौरान वशिष्ट अतिथि के रूप में उपस्थित रहे। उन्होंने किक के साथ ट्रायल शुरू किया। इसके बाद बहुतकनीकी कालेज मैदान सुंदरनगर में दोनों मुख्य अतिथियों के साथ ही तकनीकी शिक्षा उपनिदेशक आईटीआई देवेंद्र राणा रूप मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित रहे। इस अवसर पर विक्रम पठानिया, प्रधानाचार्य आईटीआई सुंदरनगर रविंद्र बनियाल, विक्रम पठानिया, डैहर आईआटीआई के गु्रप इंस्ट्रक्चर विजय कुमार, डीएफए मंडी के अध्यक्ष लीला विलास, हॉट वेदर एसोसिएशन उपाध्यक्ष केएन तीवारी, डीएफए मंडी से ही जगदीश कुमार राजा, प्रवीण शर्मा, दीप, रोशन अली, सुशांत शर्मा, दीपक गुलेरिया, हरमीत सिंह बिट्टू, खेमचंद शास्त्री, राजू धलारिया और प्रेस क्लब सुंदरनगर के प्रधान सुरेंद्र शर्मा आदि गणमान्य उपस्थित रहे।

सिक्किम के युवा भी पहुंचे

पड्डल मैदान में ट्रायल न सिर्फ मंडी, बल्कि शिमला के साथ ही सिक्किम प्रदेश के बच्चों ने ट्रायल दिया। अभिलाषी विश्वविद्यालय में सिक्किम से पढ़ रहे छात्र इवान और उसके साथियों ने भी ट्रायल लिया।

विशेषज्ञों की परख

मंडी और सुंदरनगर करवाए गए ट्रायल में फुटबाल के क्षेत्र से वर्षों से जुडे़ हुए छह चेहरों ने निर्णायक मंडल की भूमिका निभाई। इनमें नेशनल फुटबालर रहे चुके हरीश शर्मा, 24 बार संतोष ट्रॉफी खेल चुके सुनील कुमार, नेशनल फुटबालर रह चुके वीरेंद्र सिंह, खेल विभाग मंडी के फुटबाल कोच विक्रम विष्ट, नेशनल फुटबालर रहे विजय पठानिया, डीएफ के कोच इंद्र कुमार और कमल किशोर ने निर्णाय मंडल की भूमिका अदा की।

ट्रायल के लिए दौड़

सुंदरनगर में परीक्षा देने के बाद छात्रों ने ट्रायल दिया। बहुतकनीकी कालेज व सिरडा कालेज के छात्रों ने पेपर देने के बाद मैदान में पहुंच कर ट्रायल दिया। इसी तरह से महावीर पब्लिक स्कूल, बाल स्कूल सुंदरनगर, डीएवी पब्लिक स्कूल सुंदरनगर, बीएसएल मॉडल पब्लिक स्कूल व अन्य स्कूलों से खिलाडि़यों ने ट्रायल दिया।

25 नेशनल खिलाडि़यों ने दिखाया दमखम

मंडी— हिमाचल में पहली मर्तबा आयोजित हो रही ‘दिव्य हिमाचल हिमाचल फुटबाल लीग’ के मंडी ट्रायल में  राष्ट्रीय स्तर के खिलाडि़यों की झड़ी लग गई। नेशनल लेवल पर प्रतिभा का लोहा मनवा चुके 25 फुटबाल खिलाड़ी पठानिया मंडी मास्टर की टीम में जगह पाने के लिए ट्रायल देने पहुंचे। ऐतिहासिक पड्डल मैदान मंडी व सुंदरनगर में आयोजित ट्रायल के दौरान समस्त खिलाडि़यों ने खूब दमखम दिखाया। मंडी ट्रायल में जहां स्कूली बच्चों ने भाग लिया, वहीं पुलिस विभाग में सेवाएं दे रहे खिलाडि़यों ने भी काफी रोचकता दिखाई। ट्रायल में फुटबाल खिलाडि़यों के प्रदर्शन को देखकर निर्णायक मंडी और फुटबाल से जुड़ी हस्तियां भी हैरान रह गई। मंडी ट्रायल में राष्ट्रीय फुटबाल खिलाड़ी हितेंद्र ठाकुर एचपी पुलिस 18 नेशनल, पुनीत सैणी 19 नेशनल, चिराग शर्मा एचपी पुलिस आठ नेशनल, धीरज शर्मा एचपी पुलिस 12 नेशनल, पंकज शर्मा दो नेशनल, पंकित कैथ दो स्कूल नेशनल, निशांत  तीन ओपन नेशनल, सचिन पांच नेशनल, विकास ने तीन ओपन नेशनल, सोहल सिंह एक नेशनल स्पर्धाएं खेल चुके हैं। इसके अलावा सुंदरनगर में दिनेश दो नेशनल, रूप सिंह तीन नेशनल व मोहित एक नेशनल स्पर्धा में भाग ले चुके हैं।

डीएम तिवारी को सम्मान

NEWSसुंदरनगर— सुंदरनगर में ‘दिव्य हिमाचल फुटबाल लीग’ के लिए हुए ट्रायल गौरवमयी क्षण भी जुड़ गए हैं। सुंदरनगर के बहुतकनीकी कालेज के संस्थान में आयोजित ट्रायल मैच को देखने के लिए इंडियन फुटबाल टीम के पूर्व खिलाड़ी देव मित्र तिवारी भी पहुंचे। सुंदरनगर के रहने वाले देव मित्र तिवारी ने 1953 से लेकर 1955 तक टीम इंडिया से खेलते हुए पाकिस्तान को खूब धूल चटाई थी। उस समय टीम उन्होंने टीम इंडिया से खेलते पाकिस्तान को चार मैचों में हार थमाई थी। सुंदरनगर में ‘दिव्य हिमाचल’ की ओर से आयोजित ट्रायल में पहुंचने पर उनका ‘मीडिया ग्रुप’ की तरफ से स्वागत व सम्मान किया गया। ‘दिव्य हिमाचल’ के इस प्रयास की खूब प्रशंसा करते हुए उन्होंने कहा कि उन्हें यह देखकर खुशी हो रही है कि छोटे से प्रदेश में फुटबाल के लिए ऐसा प्रयास हो रहा है। उन्होंने कहा कि यह बडे़ ही गर्व की बात है। 88 वर्ष के हो चुके श्री तिवारी ने कहा कि उन्हें आज यह सब होता देख कर न सिर्फ खुशी हो रही है, बल्कि वह महसूस कर रहे हैं कि शीघ्र ही प्रदेश फुटबाल के क्षेत्र में बड़ा नाम कमाएगा।

अब फुटबाल के अच्छे दिन

46 वर्षों से मंडी में हॉट वैदर फुटबाल टूर्नामेंट करवा रहे केएम तिवारी ने ‘दिव्य हिमाचल मीडिया ग्रुप’ द्वारा आयोजित की जा रही फुटबाल लीग-2017 को फुटबाल के अच्छे दिनों की शुरुआत करार दिया है। उन्होंने कहा कि आज फुटबाल के लिए हिमाचल प्रदेश में इस तरह से किसी संस्था या मीडिया ग्रुप ने कोई प्रयास नहीं किया है। प्रदेश में इस तरह से खिलाडि़यों मंच मिलना गौरव की बात है। उन्होंने कहा कि मंडी में एक मंच पर फुटबाल की सभी संस्थाओं के आने से फुटबाल निखरेगा।

कुल्लू ने खिताब जीता तो एक लाख

कुल्लू— कुल्लू फुटबाल टीम एसी सोहन सिटी के मालिक सुभाष शर्मा ने अपनी टीम के खिलाडि़यों को खिताबी जीत हासिल करने पर एक लाख रुपए देने की घोषणा की है। उन्होंने कहा कि अगर उनकी टीम के खिलाड़ी जीत हासिल करते है तो उन्हें एक लाख बतौर इनाम राशि दी जाएगी और साथ ही अन्य तोहफे भी दिए जाएंगे। टीम मालिक सुभाष शर्मा ने कहा कि ‘दिव्य हिमाचल’ ने जो पहल फुटबाल को आगे लाने में की है, वह सराहनीय है। बहुत से खिलाडि़यों को बेहतर मंच न मिलने के चलते वह हमेशा पीछे रह जाते थे। ऐसे में एक अच्छा मंच प्रदान हुआ है। उन्होंने कहा कि अन्य खेलों को भी इसी तरह से प्रोत्साहन मिलना चाहिए, ताकि सभी खेलों के प्रति खिलाडि़यों की रुचि बन सके। सुभाष शर्मा ने कहा कि कुल्लू टीम अगर जीत हासिल करती है तो उन्हें जिला प्रशासन की ओर से भी सम्मानित किया जाएगा। फुटबाल के लिए जो प्रयास ‘दिव्य हिमाचल’ ने किया है, इसकी सराहना प्रदेश भर में हो रही है। उन्हें खुशी है कि वह  ‘दिव्य हिमाचल’ परिवार का खिलाडि़यों के माध्यम से हिस्सा बने है।

NEWS

April 28th, 2017

 
 

पोल

क्या कोटखाई रेप एवं मर्डर केस में पुलिस ने असली अपराधियों को पकड़ा है?

View Results

Loading ... Loading ...
 
Lingual Support by India Fascinates