himachal pradesh news, himachal pradesh top stories, himachal pradesh tourism

एक टीचर के हवाले मिड-डे मील

स्कूलों में बेहतर भोजन व्यवस्था पर सौंपी जिम्मेदारी

newsऊना— प्रदेश के सरकारी स्कूलों को अब दोपहर के समय दिए जाने वाले मिड-डे मील पर नजर रखने के लिए एक विशेष शिक्षक की तैनाती करनी पड़ेगी। स्कूल में स्कूल प्रबंधन समिति की ओर से एक शिक्षक को इसकी जिम्मेदारी सौंपी जाएगी, ताकि बच्चों को बेहतर मिड-डे मील की सुविधा मिल सके। हालांकि सरकारी स्कूलों में इससे पहले भी बच्चों को बेहतर मिड-डे मील मुहैया करवाया जा रहा है, लेकिन पहले से व्यस्था को और सुदृढ़ करने के लिए शिक्षा विभाग की ओर से उच्च शिक्षा उपनिदेशक को निर्देश दिए गए हैं। शिक्षा विभाग की ओर से जारी निर्देशानुसार पत्र संख्या ईडीएन-एच(ईई)(4)4-17/2016-2017 के तहत स्कूल में मिड-डे मील कार्यक्रम के तहत स्कूल प्रबंधन कमेटी द्वारा मिड-डे मील इंचार्ज की तैनाती की जाए। इंचार्ज की तैनाती दो साल के लिए की जाएगी। यदि किसी स्कूल में केवल मात्र एक ही शिक्षक है, तो उस शिक्षक को नया इंचार्ज रखा जाएगा। वहीं इंचार्ज को हर रोज मिड-डे मील की जानकारी एमडीएमएस-एआरएमएम पोर्टल पर हर रोज भेजनी होगी। इसके लिए शिक्षा विभाग की ओर से टोल फ्री नंबर-15544 भी जारी किया है। इसमें कितने बच्चों को मिड-डे मील वितरित किया गया। बच्चों को बेहतर सुविधा मुहैया करवाई जा रही है या नहीं और अन्य डिटेल भी भेजनी होगी। बता दें कि सरकारी स्कूलों में शिक्षा ग्रहण कर रहे नौनिहालों को दोपहर के समय मिड-डे मील मुहैया करवाया जा रहा है, लेकिन कई स्कूलों में मिड-डे मील की शिकायतें पहुंचने के बाद शिक्षा विभाग ने सख्त रवैया अपनाया था। उधर, इस बारे में प्रारंभिक शिक्षा उपनिदेशक ऊना हंसराज गुलेरिया ने कहा कि उच्च अधिकारियों के निर्देश मिलने के बाद स्कूलों को निर्देश जारी कर दिए गए हैं।

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !

You might also like
?>