himachal pradesh news, himachal pradesh top stories, himachal pradesh tourism

एंबुलेंस नहीं, पालकी का सहारा

घुमारवीं  —  घुमारवीं उपमंडल की अति दुर्गम क्षेत्र हवान, हरलोग चलैहली की सीमा पर बसे करीब एक दर्जन गांवों को सड़क सुविधा न होने के कारण लोगों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। लोगों की मानें तो उन्होंने कांग्रेस व भाजपा के पास भी अपना दुखड़ा रोया, परंतु किसी ने भी उनकी सुध लेना जरूरी नहीं समझा।  भांगलेड़ा गांव के देवेंद्र सिंह, हरलोग पंचायत सदस्य राजेंद्र सिंह, हरलोग पंचायत की सदस्य लक्ष्मी देवी, भांगलेड़ा गांव के मदन लाल, दलीप सिंह, भूरी सिंह, जगदीश कुमार, रूपलाल, सुखराम, नानक चंद व सुरेश कुमार आदि ने बताया कि ग्रामीणों ने आपसी सहयोग से सड़क का निर्माण हरलोग पंचायत के गांव नरवाली में समेल बिलासपुर  सड़क के साथ से शुरू किया था। इसे त्रिफालघाट सड़क के साथ जोड़ दिया गया था। लोगों ने बताया कि रास्ते में एक परिवार द्वारा सरकारी भूमि पर कब्जा किया गया है। इसके चलते सड़क वहां से अवरुद्ध हो गई है, जबकि इस सड़क का निर्माण लोगों ने स्वयं ही श्रमदान करके किया था। लोगों ने बताया कि काफी समय से सड़क निर्माण करने की सरकार से मांग की थी। मुख्यमंत्री के हरलोग प्रवास पर उनसे एक प्रतिनिधिमंडल मिला तथा सड़क निर्माण की गुहार लगाई थी। सीएम ने उपायुक्त के माध्यम से एसडीएम घुमारवीं को इस बारे में कार्रवाई के आदेश दिए थे।

You might also like
?>