प्रशिक्षु डाक्टरों ने लूटी वाहवाही

चंबा  —  पंडित जवाहर लाल नेहरू मेडिकल कालेज के नींव पथर के शुभ अवसर पर चंबा में रंगारंग प्रस्तुतियों का आयोजन कर प्रशिक्षु डाक्टरों ने मौजूद दर्शकों का खूब मनोरंजन किया। भले ही मेडिकल कालेज चंबा के नए भवन का शिलान्यास केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने राजधानी शिमला से किया है, लेकिन इस उपलक्ष्य पर चंबा में भी कार्यक्रम का आयोजन किया गया। मौजूदा मेडिकल कालेज अखंड चंडी महल में आयोजित किए गए इस कार्यक्रम में प्रशिक्षु छात्रों ने नाटी प्रस्तुत कर हर किसी को आकर्षित कर दिया।  पंडित जवाहर लाल नेहरू मेडिकल कालेज चंबा का पहला सत्र पहली सिंतबर से शुरू हुआ है। छात्रों की कक्षाएं अखंड चंडी पैलेस में चल रही हैं, वहीं जोनल अस्पताल (अब मेडिकल कालेज अस्पताल) में प्रेक्टिकल वर्क सहित अन्य गतिविधियों का प्रशिक्षण दिया जा रहा है। चंबा मेडिकल कालेज के बन जाने से क्षय रोग एवं सरोल स्थित कुष्ठ रोग अस्पताल को मेडिकल कालेज से संबंध किया गया है, वहीं मुख्यालय से 20 किलोमीटर की दूरी पर पड़ने वाले तीन स्वास्थ्य केंद्र चूड़ी, चनेड एवं पुखरी को 30-30 बेड की क्षमता का बनाया गया है। मेडिकल कालेज चंबा को पांच सौ विस्तर की क्षमता का बनया जाएगा, जिसमें छह सौ से अधिक विभिन्न श्रेणियों के कर्मचारी तैनात होंगे।

सरोल में 20 एकड़ जमीन पर होगा निर्माण

चंबा से करीब छह किलोमीटर की दूरी पर सरोल (भद्रम) में मेडिकल कालेज भवन का निर्माण किया जाएगा। 20 एकड़ जमीन पर बनने वाले इस भवन को लेकर केंद्र सरकार की ओर से अलग-अलग किश्तों में 46 करोड़ के करीब धन्न राशि भी जारी हो चुकी है। कालेज भवन निर्माण को तीन साल में पूरा करने का लक्ष्य रखा गया है।

You might also like