Divya Himachal Logo Sep 22nd, 2017

भाजपा मांगे सरकार से हिसाब

हिमाचल में चुनावी अभियान की शुरुआत करते हुए संबित पात्रा का तंज, प्रदेश में रक्षक बने भक्षक

NEWSशिमला— भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता संबित पात्रा ने कोटखाई गैंगरेप व कानून व्यवस्था के साथ-साथ सरकारी नौकरियों में सेवानिवृत्त अधिकारियों को पुनर्नियुक्ति देने के मामले उठाते हुए आरोप लगाए हैं कि प्रदेश पुलिस की एसआईटी रक्षक के रूप में भक्षक बन गई। भाजपा के ‘हिमाचल मांगे हिसाब’ अभियान के तहत अपनी पहली प्रेस कान्फ्रेंस में उन्होंने कोटखाई मामले को उठाते हुए कहा कि यह एक बड़ा षड्यंत्र है, जिसे छिपाने व दबाने के लिए बड़े स्तर पर प्रयास किए गए। उन्होंने आरोप लगाया कि छात्रा मामले में आईजी समेत आठ अधिकारी व पुलिसकर्मी सच छिपाने के आरोप में गिरफ्तार किए गए हैं। इस दौरान प्रतिपक्ष के नेता प्रो. प्रेम कुमार धूमल, सांसद वीरेंद्र कश्यप, विधायक सुरेश भारद्वाज, पूर्व विधायक नरेंद्र बरागटा व अन्य नेता भी मौजूद थे। संबित पात्रा ने कहा कि जिस तरह से कोटखाई थाने में कस्टोडियल डेथ हुई, उससे जाहिर होता है कि इस मामले में बड़े षड्यंत्र को छिपाने का प्रयास किया गया। आखिर मुख्यमंत्री के फेसबुक पर 45 मिनट तक कुछ फोटो अपलोड किए गए, फिर उन्हें अचानक क्यों हटा दिया गया। उन्होंने कहा कि चुनाव में लोग इस मामले का हिसाब मांगेंगे। उन्होंने यह भी कहा कि कांग्रेस की राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी, उपाध्यक्ष राहुल गांधी और हिमाचल के मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह व उनका परिवार जमानत पर चले हैं। उन्होंने पूछा कि मुख्यमंत्री को केंद्रीय स्टील मंत्री के पद से क्यों हटाया गया था तथा बाद में जो मंत्रालय दिया गया, वह भी वापस क्यों लिया गया, यह लोगों को बताना चाहिए। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री के खिलाफ सीबीआई जांच के आदेश यूपीए सरकार ने ही दिए थे और तभी एफआईआर भी दर्ज हुई थी। जब भ्रष्टाचार के संगीन आरोप वीरभद्र पर लगे थे, तो उन्हें हिमाचल क्यों भेजा गया। उन्होंने कहा कि हिमाचल में भ्रष्टाचार का नग्न नृत्य हो रहा है। उद्योग विभाग के संयुक्त निदेशक को लाखों रुपए के साथ पकड़ा गया, जिसने पूछताछ में यह कहा कि यह पैसा ऊपर तक जाना था। उन्होंने आरोप लगाया कि यह लोगों की जेब से सीधी लूट है। संबित पात्रा ने कहा कि प्रदेश में खनन माफिया के सक्रिय होने से 2400 करोड़ की चपत लगी है। प्रदेश में 40 फीसदी युवा अवैध ड्रग्स का शिकार बन चुके हैं। प्रदेश में 900 करोड़ का अवैध ड्रग कारोबार चल रहा है। राजस्व व वन अधिकारियों की शह में पेड़ों का अवैध कटान जारी है। इन्हीं संगीन आरोपों के चलते प्रदेश के लोग कांग्रेस को सत्ता से उखाड़ फेंकने के लिए तैयार बैठे हैं।

देश में वंशवाद कांग्रेस की देन

संबित पात्रा ने एक सवाल पर कहा कि देश में वंशवाद कांग्रेस का परिचायक है। इस पार्टी में पालने में ही प्रधानमंत्री व अध्यक्ष का जन्म हो जाता है। भाजपा के लिए पार्टी ही परिवार है, जबकि कांग्रेस के लिए परिवार ही पार्टी है।

नेतृत्व का सवाल टाल गए

मीडिया द्वारा हिमाचल में नेतृत्व के सवाल को भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता संबित पात्रा सरलता से टाल गए। उन्होंने कहा कि प्रदेश की सत्ता में भाजपा आएगी, यह तय है। सरकार भारतीय जनता पार्टी की ही बनेगी।

मुख्यमंत्री को देना होगा भ्रष्टाचार का जवाब

संबित पात्रा ने मुख्यमंत्री से जवाब मांगा कि वक्कामुला से पैसे लेकर उनके बेटे ने मेहरोली व ग्रेटर कैलाश में करोड़ों की संपत्ति कैसे ली। सेब-बागीचे की इन्कम एक साथ करोड़ों में कैसे पहुंच गई। फिर रिवाइज्ड इन्कम टैक्स रिटर्न भरने की जरूरत क्यों पड़ी। अपने व परिजनों का करोड़ों का बीमा कैसे हो गया।

September 13th, 2017

 
 

पोल

क्या जीएस बाली हिमाचल में वीरभद्र सिंह का विकल्प हो सकते हैं?

View Results

Loading ... Loading ...
 
Lingual Support by India Fascinates