Divya Himachal Logo Sep 22nd, 2017

मक्खन लगाओ, पार्टी अध्यक्ष बन जाओ

बजौरा में मुख्यमंत्री ने मनोनयन पर फिर उठाए सवाल, बाली का भाजपा में जाने का फैसला अपना

NEWSबजौरा (कुल्लू)— मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह ने बजौरा में एक जनसभा  के दौरान कहा कि वह पांच दफा पार्टी अध्यक्ष रहे हैं, जिसमें से चार बार वह चुनावी प्रक्रिया से अध्यक्ष चुने गए। अब तो सब मनोनीत अध्यक्ष बनाए गए हैं। पद हासिल करने के लिए लोग एक-दो बड़े नेताओं को मक्खन लगाते हैं और फिर कुर्सी हासिल कर लेते हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि पार्टी प्रजातांत्रिक होनी चाहिए। मुख्यमंत्री ने चुनावों की इस वेला में सलाह दी है कि बड़े-बड़े होर्डिंग्स, बोर्ड पर बड़े नेताओं के साथ अपनी फोटो लगाने से टिकट नहीं मिलता है। पार्टी जीत की क्षमता रखने वाले और काबिल लोगों को ही टिकट देगी। इस मौके पर भाजपा को आड़े हाथ लेते हुए कहा कि भाजपा बताए कि उन्होंने अभी तक प्रदेश में कितने मेडिकल कालेज खोले हैं। प्रदेश में अभी तक तकरीबन 132 डिग्री कालेज हो चुके हैं, जिनमें से एक-दो को छोड़कर सारे कांग्रेस ने ही खोले हैं। उन्होंने कहा कि भाजपा चाहती है कि प्रदेश में स्कूल व कालेज न खोले जाएं, ताकि प्रदेश में अंधकार रहे तथा इस अंधकार में कहीं न कहीं पर भाजपा का अपना भी टांका लग जाए। इससे पहले टहल सिंह राणा ने मुख्यमंत्री का बजौरा पहुंचने पर स्वागत किया। इस मौके पर पूर्व सांसद प्रतिभा सिंह, आईपीएच मंत्री विद्या स्टोक्स, ऊर्जा मंत्री सुजान सिंह पठानिया, हिम बुनकर के चेयरमैन टहल सिंह राणा, जिला परिषद के पूर्व अध्यक्ष हरि चंद शर्मा, कांग्रेस नेता दुष्यंत ठाकुर, जिला परिषद अध्यक्ष रोहणी चौधरी, उपायुक्त कुल्लू यूनुस, एसपी कुल्लू शालिनी अग्निहोत्री, सीएमओ कुल्लू डा. सुशील चंद्र शर्मा, बंजार कांग्रेस नेता थरवन पालसरा, प्रभा पालसरा सहित अन्य उपस्थित रहे।

मैं तो रिटायरमेंट चाहता हूं,…पर

सैंज की जनसभा में मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह ने कहा कि नौजवान युवाओं को आगे आना चाहिए। वह अब रिटायर होना चाहते हैं, लेकिन पार्टी ने साफ कर दिया है कि आपको आगे चलना होगा।

नेताओं के पिट्ठू न बनें कांग्रेस विधायक

मुख्यमंत्री ने कांग्रेस विधायकों को भी सलाह देते हुए कहा कि विधायक नेताओं के पीट्ठू नहीं होने चाहिएं, उन्हें जनता का पिठू होना चाहिए और अपने क्षेत्र के विकास के लिए प्रयास करने चाहिएं। मैं खुशामद लोगों का विश्वास नहीं करता हूं। जो मुंह पर राम-राम और बगल में छुरी रखते हैं।

बाली के पार्टी बदलने से नहीं होगा नुकसान

मुख्यमंत्री ने सियूंड में पावर प्रोजेक्ट का उद्घाटन करने बाद पत्रकारों से कहा कि कैबिनेट मंत्री जीएस बाली का ऐसा सुनने में आ रहा है कि वह भाजपा में जा रहे हैं। कांगे्रस पार्टी मजबूत है तथा पार्टी भी यही चाहेगी कि बाली कांग्रेस में रहें, लेकिन अगर फिर भी वह भाजपा में जाना चाहते हैं तो फिर यह उनका अपना फैसला है। इससे पार्टी को कोई नुकसान नहीं होगा।

September 13th, 2017

 
 

पोल

क्या जीएस बाली हिमाचल में वीरभद्र सिंह का विकल्प हो सकते हैं?

View Results

Loading ... Loading ...
 
Lingual Support by India Fascinates