लंदन में छाया सिरमौर का सौरभ

newsनाहन— सिरमौर जिला के दूरदराज क्षेत्र संगड़ाह उपमंडल के गांव शामरा के सौरभ ठाकुर ने लंदन में क्लाइमेट जस्टिस पर एक प्रेजेंटेशन दी। वर्तमान में जेएनयू दिल्ली से पीएचडी कर रहे सिरमौर जिला के शामरा निवासी सौरभ ठाकुर देश के उन चार विद्यार्थियों में शामिल थे, जिन्होंने 29 अगस्त को इंग्लैंड के लंदन में आयोजित अंतरराष्ट्रीय पर्यावरण कान्फ्रेंस में क्लाइमेट जस्टिस पर प्रस्तुति दी। करीब एक घंटे की इस प्रस्तुति में सौरभ ठाकुर ने पर्यावरण कानून पर प्रस्तुति देकर जिला व प्रदेश ही नहीं, बल्कि देश को अंग्रेजों की धरती पर रिप्रेजेंट किया। सौरभ ठाकुर वर्तमान में देश के जाने माने विश्वविद्यालय जेएनयू से पीएचडी फेलोशिप कर रहे हैं। इससे पूर्व सौरभ ठाकुर एचपीयू से स्नातक स्तर पर बीए ऑनर्स में गोल्ड मेडलिस्ट हैं। प्रदेश विश्वविद्यालय से स्नातक करने के बाद सौरभ ठाकुर ने दिल्ली स्थित जेएनयू में स्नातकोत्तर में प्रवेश लिया तथा जेएनयू से स्नातकोत्तर व एमफिल की पढ़ाई पूरी कर ली है। मूल रूप से संगड़ाह क्षेत्र के बोगधार के शामरा निवासी डा. अमी चंद, जो कि कालेज के सेवानिवृत्त प्राचार्य व केंद्रीय हाटी समिति के मुख्य सलाहकार के पुत्र हैं, पालिटिकल जियोग्राफी में एमफिल के बाद पीएचडी कर रहे हैं। वह पिछले तीन साल से जूनियर रिसर्च फेलोशिप प्राप्त कर रहे हैं। इंग्लैंड के लंदन स्थित इंपीरियल कालेज लंदन में रॉयल जियोग्राफिकल सोसायटी लंदन द्वारा जलवायु जस्टिस पर अंतरराष्ट्रीय कान्फ्रेंस का आयोजन 28 व 29 अगस्त को किया गया था, जिसमें सिरमौर जिला के प्रतिभाशाली छात्र सौरभ ठाकुर ने देश का नेतृत्व किया। सौरभ की इस उपलब्धि से सिरमौर जिला अपने आपको गौरवान्वित महसूस कर रहा है।

You might also like