himachal pradesh news, himachal pradesh top stories, himachal pradesh tourism

सीएचसी बरठीं में तीन साल से धूल फांक रही एक्स-रे मशीन

बरठीं —  सरकार सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र बरठीं का दर्जा 20 बिस्तरों से बढ़ाकर 50 बिस्तरों का करने का दावा कर रही है तथा इस घोषणा पर शीघ्रता से अमल करने का आश्वासन दिया जा रहा है, लेकिन बावजूद इसके जो सुविधाएं सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में पहले से दिए जाने के वादे सरकार द्वारा दिए गए हैं उनको सुचारू रूप से चलाने के लिए नाकाम सिद्ध हो रही है। सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र बरठीं की एक्स-रे मशीन करीब तीन साल से अस्पताल के एक कमरे में धूल फांक रही है। हालांकि जब भी रोगी कल्याण समिति की बैठक होती है या कोई सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में अन्य किसी भी प्रकार का सम्मेलन होता है, तो उसमें एक्स-रे मशीन को शीघ्र ही स्थापित करने को कहा जाता है, लेकिन फिर भी उसको स्थापित नहीं किया जा सका है। एक्स-रे की सुविधा नहीं मिलने से बरठीं व आसपास की करीब 25 पंचायतों के मरीजों को अपना एक्स-रे करवाने के लिए या तो प्राइवेट क्लीनिक में महंगे दामों पर एक्स-रे करवाना पड़ते हैं या फिर घुमारवीं व बिलासपुर को रुख करना पड़ रहा है। बरठीं पंचायत के पूर्व प्रधान अमरनाथ गौतम, अशोक कुमार, प्रीतम चंद, नरेश कुमार सोनी, साहिब सिंह सोनी, बाबू राम, बीडीसी सदस्य छत कमला देवी, कोटलू ब्राह्मणा पंचायत के प्रधान प्यारे लाल, छत पंचायत के उपप्रधान बिशन सिंह जम्वाल व पूर्व पंचायत प्रधान सोमा देवी आदि ने बरठीं में एक्स-रे मशीन को शीघ्रता से स्थापित करने की पूरजोर मांग की है। बीएमओ झंडूता राजीव गर्ग ने बताया कि एक्स-रे तकनीशियन का पद रिक्त होने के कारण यह समस्या आ रही है। उन्होंने कहा कि उच्चाधिकारियों को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र बरठीं में एक्स-रे तकनीशियन का पद भरने के लिए लिखा गया है।

You might also like
?>