70 रुपए दिहाड़ी में कैसे करें गुजारा

घुमारवीं —  विकासात्मक कार्यों व सरकारी योजनाओं को लोगों तक पहुंचाने की अहम कड़ी पंचायत चौकीदार 70 रुपए दिहाड़ी पर गुजर बसर कर रहे हैं। पंचायत चौकीदारों को महज 2050 रुपए प्रति माह मानदेय दिया जाता है। इसकी एवज में पंचायत चौकीदार को पंचायत में प्रतिदिन हाजिर होना पड़ता है। पंचायत चौकीदार को 70 रुपए दिहाड़ी में परिवार का पालन-पोषण करना मुश्किल हो रहा है। जानकारी के मुताबिक प्रदेश भर की पंचायतों में लगभग 3243 पंचायत चौकीदार अपनी ड्यूटी निभा रहे हैं। पंचायतों में आने वाले विकासात्मक कार्यों को लोगों तक पहुंचाने सहित अन्य कामों के लिए पंचायत चौकीदार अहम भूमिका निभाते हैं, लेकिन पंचायत चौकीदारों को महज प्रति माह 2050 रुपए प्रति माह दिया जा रहा है। इससे उन्हें परिवार का पालन-पोषण करना मुश्किल हो रहा है। महंगाई के इस दौर में पंचायत चौकीदार 70 रुपए दिहाड़ी पाकर पसीज कर रह जाता है, लेकिन  उनकी आज तक कहीं भी कोई सुनवाई नहीं हो रही है। इससे पंचायत चौकीदारों में निराशा ही हाथ लग रही है। पंचायत चौकीदारों का मानना है कि सरकार के आश्वासन के बावजूद आज तक कोई नीति नहीं बनी है। सरकार की ओर से पंचायत चौकीदारों को कोरे आश्वासन ही मिल रहे हैं। सरकार पंचायत चौकीदारों के साथ सौतेला व्यवहार कर रही है।

You might also like