himachal pradesh news, himachal pradesh top stories, himachal pradesh tourism

हिमाचली अंदाज में गबरू

धर्मशाला पीजी कालेज में ‘दिव्य हिमाचल मीडिया ग्रुप’ के इवेंट ‘मिस्टर हिमाचल’ का ग्रैंड फिनाले

धर्मशाला— ‘दिव्य हिमाचल मीडिया ग्रुप’ के इंवेट ‘मिस्टर हिमाचल-2017’ को देखने के लिए शनिवार को धर्मशाला में काफी उत्साह दिखा। धौलाधार की तलहटी में बसा धर्मशाला पीजी कालेज का ऑडिटोरियम ‘मिस्टर हिमाचल-2017’ का गवाह बना। कार्यक्रम शुरू होने से पहले ही ऑडिटोरियम दर्शकों से खचाखच भर गया था। जिला प्रशासन सहित अन्य विभागाध्यक्षों व गणमान्यों ने कार्यक्रम में पहुंचकर ‘मिस्टर हिमाचल’ इंवेट का लुत्फ उठाया। ग्रैंड फिनाले से पहले जहां प्रदेश भर में ऑडिशन करवाए गए, वहीं सेमीफाइनल में चुने हुए प्रतिभागियों ने खिताब पाने के लिए खूब जोर आजमाइश की। एक हफ्ता होटल चांदनी में चले ग्रूमिंग सेशन में टॉप-20 फाइनलिस्ट के टेलेंट की परख के साथ पर्सनेलिटी डिवेलपमेंट, मॉडलिंग, एक्टिंग, योग, पैंथरवॉक के टिप्स गणमान्यों द्वारा दिए गए। पीजी कालेज धर्मशाला के ऑडिटोरियम में तीसरा ‘मिस्टर हिमाचल’ का खिताब कौन जीतेगा, ये देखने के लिए सिर्फ युवा ही नहीं, बल्कि हर आयु वर्ग के लोग गवाह बनने के लिए उत्सुक दिखे। पहाड़ के युवाओं के मॉडलिंग के क्षेत्र में रुझान और उनकी बेहतरीन प्रतिभा को देखने के लिए सभी ने ऑडिटोरियम में अपनी उपस्थिति दर्ज करवा इस इंवेट की शोभा बढ़ाई। धर्मशाला में ‘मिस्टर हिमाचल’ ग्रैंड फिनाले का लोगों की तालियों की गड़गड़ाहट और युवाआें की सीटियों के बीच धमाकेदार शुभारंभ हुआ। कार्यक्रम के दौरान जैसे ही टॉ-20 फाइनलिस्ट हिमाचली अंदाज में मंच पर पहुंचे, हर कोई उन्हें देखकर दंग रह गया।

ग्रैंड फिनाले में छाए हिमाचली लोकगीत

 धर्मशाला— ‘दिव्य हिमाचल मीडिया ग्रुप’ द्वारा ‘मिस्टर हिमाचल-2017’ ग्रैंड फिनाले का आयोजन शनिवार को धर्मशाला पीजी कालेज में हुआ। ग्रैंड फिनाले में प्रदेश के विभिन्न शहरों से संबंध रखने वाले टॉप-20 फाइनलिस्ट के साथ हिमाचली कलाकारों ने खूब मनोरंजन किया। ‘मिस्टर हिमाचल सीजन-3’ के ग्रैंड फिनाले में लोक गायक सुनील राणा, कश्मीरी लाल, ‘हिमाचल की आवाज’ विजेता पायल ठाकुर, कॉमेडियन प्रिंस गर्ग और मंच संचालन जंयत भारद्वाज ने किया। धर्मशाला के सुनील राणा ने सुरीली आवाज के दम पर दर्शकों का खूब मंनोरंजन किया। पहाड़ी गायक सुनील राणा ने कांगड़ी व गदियाली लोकगीतों से मौजूद दर्शकों को नाचने पर मजबूर कर दिया। सुनील राणा ने अपनी पहली प्रस्तुति माए नी मेरिए, जम्मू दी राहे चंबा कितनी की दूर, कपडे़ धोआं झम-झम रोआं कुजुंआ, कांछा चढ़या पहाड़ा जो, लाल चिडि़ए हो लाल चिडि़ए गाने के साथ अपनी अंतिम प्रस्तुति दी। पहाड़ी गायक कश्मीरी लाल ने अपने लिखे गानों सहित पहाड़ी बोलियां गाकर दर्शकों को हंसने सहित सोचने पर मजबूर कर दिया। कश्मीरी लाल का प्रसिद्ध गीत बुरा जमाना आई गया को दर्शकों ने खूब प्यार दिया। इसके साथ उचेयां कैलाश रैंदा मेरा भोला, सोहणी सोहणी शिमले दी सड़कां जिंदे के साथ अपनी अंतिम प्रस्तुति दी। ‘दिव्य हिमाचल मीडिया ग्रुप’ के लोकप्रिय इवेंट ‘हिमाचल की आवाज’ की विजेता पायल ठाकुर ने अपनी मनमोहक आवाज से लोगों की खूब तालियां बटोरीं। कॉमेडियन प्रिंस गर्ग ने भी लोगों का खूब मनोरंजन किया। ‘डांस हिमाचल डांस सीजन पांच’ के विजेता दि लासट किंग क्रू के कालाकारों ने मंच पर अपने डांस के जलवे बिखेरते हुए अपने टेलेंट का प्रदर्शन किया।

You might also like
?>