himachal pradesh news, himachal pradesh top stories, himachal pradesh tourism

रिलीज नहीं होने देंगे ‘पद्मावती’

बद्दी— बालीवुड फिल्म पद्मावती में दिखाए गए आपत्तिजनक दृश्यों का बीबीएन के क्षत्रियों ने कड़ा विरोध जताया है। राजपूतों का कहना है कि अगर पहली दिसंबर को निर्धारित तिथि पर बद्दी में यह फिल्म रिलीज होती है, तो इसका कड़ा विरोध किया जाएगा और भंसाली को जमकर फटकार लगाई गई। क्षत्रिय महासभा के हिमाचल इकाई के उपाध्यक्ष कैप्टन डीआर चंदेल, राजपूत प्रदेश कल्याण बोर्ड के सदस्य शिव कुमार ठाकुर, राजपूत सभा के नालागढ़ इकाई के अध्यक्ष रविंद्र ठाकुर, क्षत्रिय महासभा के राष्ट्रीय इकाई के सदस्य एवं जिला पंचकूला के अध्यक्ष धर्मपाल नेगी, हंसराज ठाकुर, पंकज ठाकुर, हिंद मजदूर सभा के प्रदेशाध्यक्ष, बद्दी विकास मंच के प्रधान बेअंत सिंह ठाकुर, ईश्वर ठाकुर किशनपुरा, मास्टर रणविजय ठाकुर, मोहन सिंह चंदेल, सामाजिक कार्यकर्ता बलविंद्र सिंह ठाकुर, डा. साहिल ठाकुर, निशांत ठाकुर, अजेंद्र प्रताप सिंह, चंदन सिंह ठाकुर,  मेला राम चंदेल, चंदन सिंह चंदेल,  जितेंद्र ठाकुर, जसवंत ठाकुर, हुकम चंद कश्यप, हरदीप ठाकुर, दिलीप सिंह राणा, केशव ठाकुर, अमित बावा, भगतराम ठाकुर, जसवीर सिंह जस्सी, रणजीत ठाकुर, अशोक राणा, केवल ठाकुर, जसविंद्र सिंह ठाकुर ने संजय लीला भंसाली की फिल्म पद्मावती में कुछ सीन में राजपूतों की बेइज्जती दिखाई गई है, जिसे किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। इस फिल्म में पद्मावती को लेकर दिखाए गए सीन गलत हैं। रानी पद्मावती महाराजा रतन सिंह की मौत के बाद सती हो गई थी, लेकिन फिल्म में उसके बाद भी उसके कई सीन दिखाए गए हैं, जो सरासर गलत व आधारहीन हैं। फिल्म में भीड़ जुटाने के लिए ऐसा मसाला तैयार किया गया है, जिसका वास्तविकता से कोई लेना देना नहीं है। फिल्म बद्दी के थियेटर में रिलीज हुई, तो  विरोध होगा।

जरूरत पड़ी तो सड़कों पर भी उतरेंगे

जरूरत पड़ने पर सड़कों पर भी उतरने से कोई परहेज नहीं किया जाएगा। शिव कुमार ठाकुर ने कहा कि इस फिल्म के ट्रायल में कुछ ऐसे सीन दिखाए गए हैं, जिससे राजपूतों की साख पर निशाना बनाया गया है। पद्मावती के ऐसे सीन दिखाए गए, जिसे राजपूत समाज बेइज्जती समझता है। उन्होंने निर्माता निदेशक से ये सीन हटाने की मांग की है। अगर ये सीन नहीं हटाए गए, तो इसका पुरजोर विरोध किया जाएगा।

You might also like
?>