शीतलहर की चपेट में हिमाचल

न्यूनतम के साथ अधिकतम तापमान में भी तीन डिग्री तक की गिरावट, 19 तक खराब रहेगा मौसम

शिमला —  पश्चिमी हवाओं के सक्रिय होने से समूचा हिमाचल प्रदेश शीतलहर की चपेट में आने लग गया है। मौसम में करवट आने से प्रदेश के अधिकतम व न्यूनतम तापमान में तीन डिग्री तक की गिरावट आई है, जिसके चलते अब प्रदेश में रातों के साथ दिन भी सर्द हो गए हैं। मौसम विभाग की मानें तो राज्य भर में 19 नवंबर तक मौसम खराब बना रहेगा। इस दौरान मैदानी व मध्य पर्वतीय क्षेत्रों में बारिश और उच्च पर्वतीय क्षेत्रों में एक-दो स्थानों पर बारिश के साथ बर्फबारी की संभावनाएं जताई जा रही हैं, जो प्रदेश में शीतलहर का प्रकोप और बढ़ा सकती हैं। हालांकि प्रदेश के अधिकांश क्षेत्रों में मंगलवार को मौसम शुष्क बना रहा, मगर ठंडी हवा चलने से समूचे प्रदेश के तापमान में गिरावट रिकार्ड की गई। अधिकतम तापमान में एक से तीन डिग्री सेल्सियस तक की गिरावट आई है। प्रदेश के डलहौजी के अधिकतम पारे में सबसे अधिक 3.0 डिग्री की गिरावट आई है। डलहौजी का तापमान 12.7 डिग्री से लुढ़ककर 9.7 डिग्री पहुंच गया है। इसके अलावा धर्मशाला, ऊना, चंबा के अधिकतम तापमान में एक डिग्री तक की गिरावट आई है। शिमला के न्यूनतम तापमान में 3.0 डिग्री सेल्सियस की गिरावट आई है। शिमला का न्यूनतम तापमान लुढ़ककर 6.1 डिग्री तक पहुंच गया है, वहीं सुंदरनगर, कल्पा, मनाली, पालमपुर में भी न्यूनतम पारा एक डिग्री तक लुढ़का है। इसके चलते सुबह व शाम के समय ठंड का प्रकोप और बढ़ गया है। राजधानी शिमला में मंगलवार को अधिकतम तापमान 18.4, सुंदरनगर में 24.0, भुंतर में 24.0, कल्पा में 16.0, धर्मशाला में 19.2, ऊना में 27.6, नाहन में 21.3, सोलन में 23.2, कांगड़ा में 25.1, चंबा में 22.9, डलहौजी में 9.7, बिलासपुर में 25.0 और हमीरपुर में 25.6 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया। मौसम विभाग के निदेशक डा. मनमोहन सिंह ने बताया कि प्रदेश में सप्ताह भर मौसम खराब बना रहेगा। 20 नवंबर को राज्य में धूप खिलेगी। उन्होंने बताया कि 19 नवंबर तक मैदानों में बारिश होगी, जबकि पहाड़ों पर बारिश के साथ हल्की बर्फबारी होने की संभावना है।

You might also like