himachal pradesh news, himachal pradesh top stories, himachal pradesh tourism

पासपोर्ट वेरिफिकेशन में हिमाचल टॉपर

हिमाचल पुलिस का बेहतरीन प्रदर्शन; सौ फीसदी ऑनलाइन वेरिफिकेशन, कोई मामला पेंडिंग नहीं

शिमला – हिमाचल पुलिस का पासपोर्ट वेरिफिकेशन में बेहतर प्रदर्शन रहा है। हिमाचल पुलिस ऑनलाइन पासपोर्ट आवेदनों की वेरिफिकेशन कर रहा है। हिमाचल बिना किसी पेडेंसी के सौ फीसदी ऑनलाइन वेरिफिकेशन करने वाले टॉप के राज्यों में शुमार है। इस साल ही अब तक पुलिस विभाग करीब 40 हजार पासपोर्ट की वेरिफिकेशन कर चुका है। पुलिस विभाग अपने स्थापना के उपलक्ष्य में शिमला में होने वाले राज्य स्तरीय कार्यक्रम में अन्य उपलब्धियों के साथ अपनी इस उपलब्धि का भी बखान करेगा। विदेश जाने के लिए पासपोर्ट बनाना हो, तो इसके लिए पुलिस की वेरिफिकेशन जरूरी रहती है। हिमाचल में अब यह काम ऑनलाइन हो रहा है, क्योंकि हिमाचल के सभी थानों को ऑनलाइन किया चुका है। ऐसे में अब पुलिस थानों से ऑनलाइन ही पोसपोर्टों के आवेदनों की वेरिफिकेशन हो रही है। इससे जहां इस काम में पारदर्शिता आई है, वहीं इसके लिए आए आवेदनों का समय पर भी निपटारा हो रहा है। यही वजह है कि हिमाचल सौ फीसदी पुलिस वेरिफिकेशन हो रही है और यहां पेडेंसी एक भी नहीं है। जानकारी के अनुसार इस साल पुलिस विभाग द्वारा सितंबर माह तक 39535 आवेदनों को वेरिफाई किया गया, यह सौ फीसदी है। थानों में कोई भी आवेदन पेंडिंग नहीं है। इससे पहले गत साल हिमाचल पुलिस ने 38166 पोसपोर्ट आवेदनों को वेरिफाई किया था। पुलिस विभाग की यह उपलब्धि थानों के सुचारू रूप से ऑनलाइन करने से संभव हो सकी है। हिमाचल में मौजूदा समय में 125 पुलिस स्टेशन हैं। अन्य राज्यों के मुकाबले में हिमाचल में इन थानों को ऑनलाइन करने की प्रक्रिया बड़ी तेजी से हुई है। इस कारण पुलिस विभाग की  ई-सर्विस भी संभव हो पाई है। हिमाचल पुलिस अपना स्थापना दिवस मना रही है और इसके लिए शिमला में होने वाले बड़े कार्यक्रम में विभाग अपनी इस उपलब्धि के बारे में आम लोगों को बताएगा। पुलिस विभाग द्वारा अन्य उपलब्धियों को भी इस कार्यक्रम के माध्यम से लोगों के बीच में रखा जाएगा।

इस साल 39 हजार आवेदन वेरिफाई

इस साल मात्र नौ माह में ही साढ़े 39 हजार आवेदनों को वेरिफाई किया जा चुका है और इस साल के अंत तक इसका आंकड़ा बढ़ने की उम्मीद है। अहम बात यह है कि थाने में कोई भी आवेदन वेरिफाई करने के लिए पेंडिंग नहीं रह रहा। पुलिस विभाग द्वारा समयवद्ध सीमा के भीतर इन आवेदनों का निपटारा किया जा रहा है। ऑनलाइन पासपोर्ट वेरिफिकेशन करने की प्रक्रिया को सुगम व तेज बनाने के लिए हिमाचल को छोटे राज्यों में टॉप में आंका जा चुका है, जबकि बड़े राज्यों में हिमाचल दूसरे नंबर पर है।

 

You might also like
?>