हिमाचली बाजार में उतरेगी डी बेस्ट कार्स

चंडीगढ़— आज जबकि देश भर में जीएसटी लागू हो चुका है, सबसे ज्यादा जिस क्षेत्र को इस व्यवस्था का फायदा होगा, वह पुरानी कारों का कारोबार है। अब तक इंटर स्टेट क्रय-विक्रय हेतु बहुत ही जटिल प्रक्रियाएं थीं, जिसके कारण कोई भी व्यवसायी इस क्षेत्र में ज्यादा निवेश नहीं करता था, लेकिन बदली हुई व्यवस्था के तहत अब हर कोई इस क्षेत्र में निवेश करने हेतु तत्पर है। दिनेश पठानिया ने बताया कि वह भी अपनी कंपनी डीबेस्टकार्सडॉट कॉम के माध्यम से हिमाचल प्रदेश मेंअपने व्यवसाय का विस्तार करने जा रहे हैं तथा इसके लिए प्रदेश के मुख्य शहरों में फे्रंचाइजी शाखाएं खोलने जा रहे हैं, जिनमें देश का भविष्य कार कंपनियों की बेहतरीन क्वालिटी की कारें बिक्री हेतु उपलब्ध होंगी। उन्होंने बताया कि देश में पहली बार होगा,जब कोई कंपनी अपने फे्रंचाइजी को और सहायताओं के अलावा यूजड कार का स्टॉक भी उपलब्ध करवाएगी, जिसकी वजह से पुरानी कार के शोरूम भी नई कार के डीलर की तरह सिर्फ सेल पर फोकस कर पाएंगे, उन्हें भी स्टॉक की व्यवस्था करने हेतु भागदौड़ नहीं करनी पड़ेगी। हमारी कंपनी का देश की टॉप कार लिडिंग कंपनीज, रेंटल कंपनीज और बैंकों जैसे कि एविस, ओरिक्स, उबेर, इंडिया, जूम व टोयोटा फाइनांस इत्यादि से टाइअप हो चुका है तथा कंपनी के मेगा स्टॉक हब दिल्ली, बंगलूर व मुंबई में स्थापित हो चुके हैं। यहां से स्टॉक को डीलर को सप्लाई किया जाएगा।

You might also like