पंचायतों को आसानी से मिलेगा पैसा

पालमपुर— ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज मंत्री वीरेंद्र कंवर ने ग्राम पंचायत आईमा में 30 लाख रुपए से लगने वाले कचरा ठोस प्रबंधन भवन तथा 10 लाख रुपए की लागत से बनने वाले पंचायत भवन का शिलान्यास किया। कार्यक्रम में सांसद शांता कुमार विशेष रूप से उपस्थित रहे। इस अवसर पर उन्होंने श्री नंदन गोशाला का अवलोकन किया और पंचायत द्वारा बेसहारा पशुओं के लिए चलाए जा रही गोशाला के लिए बधाई दी। उन्होंने कहा कि सरकार गोवंश के संरक्षण और संवर्द्धन के लिए प्रतिबद्ध है तथा बेसहारा पशुओं की समस्या के प्रति काफी गंभीर है और सरकार ने इस समस्या के निजात के लिए मंत्रिमंडल की तीन सदस्यीय उपसमिति का गठन किया गया है। वीरेंद्र कंवर ने कहा कि कचरा प्रबंधन प्रदेश के सामने बड़ी चुनौती है और प्रदेश सरकार इसका वैज्ञानिक तरीके से निष्पादन करने के लिए इस तरह के कचरा प्रबंधन संयंत्र प्रदेश के अन्य भागों में भी लगाए जाएंगे, ताकि स्वच्छ भारत का सपना साकार हो।  उन्होंने कहा कि  2019 तक हिमाचल को स्वच्छ हिमाचल के रूप में स्थापित किया जाएगा। उन्होंने कहा कि पंचायती राज संस्थाओं को और अधिक सुदृढ़ करने के लिए प्रयास किया जाएंगे, ताकि गांवों के विकास में तीव्रता आए। उन्होंने कहा कि पंचायत को उपलब्ध होने वाली राशि की उपलब्धता अधिक सरल किया जाएगा और सरकार की योजनाओं को रोजगार के साथ जोड़ा जाएगा, ताकि लोगों को लाभ प्राप्त हो। उन्होंने कहा कि एक भवन के नीचे ही पंचायत भवन, सामुदायिक भवन व आंगनबाड़ी केंद्र इत्यादि बनाने के लिए एक नीति ला रहे हैं और प्रदेश में ऐसे ही भवन बनाए जाएंगे। कार्यक्रम में जिला भाजपा अध्यक्ष  विनय शर्मा, प्रदेश भाजपा प्रवक्ता  हिमांशु मिश्रा, राजीव जम्वाल, नगर परिषद अध्यक्ष राधा सूद, ग्राम पंचायत प्रधान आईमा संजीव राणा, घुग्गर पंचायत के प्रधान ललित शर्मा, लोहना पंचायत की प्रधान अंजना सोनी, बंदला पंचायत के प्रधान विजय भट्ट, खलेट की प्रधान  हेमलता ठाकुर, एसडीएम पालमपुर बलवान चंद व जिला पंचायत अधिकारी विजय ब्राक्टा सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी और क्षेत्र के लोग उपस्थित रहे।

You might also like