पुरानी परिवहन नीति की करेंगे समीक्षा

नगरोटा बगवां — पूर्व सरकार द्वारा बनाई गई परिवहन नीति की पुनर्समीक्षा होगी और जरूरत पड़ी तो उसमें बदलाव भी करेंगे। नई नीति परिवहन निगम तथा निजी ऑपरेटरों के हितों को ध्यान में रख कर बनाई जाएगी, ताकि दोनों में सांमजस्य बना रहे। यह शब्द परिवहन मंत्री गोबिंद ठाकुर ने शुक्रवार को नगरोटा बगवां में कहे। उन्होंने स्थानीय विधायक अरुण मेहरा के साथ नगरोटा बगवां डिपो का दौरा किया। उन्होंने कहा कि जवाहर लाल नेहरू शहरी नवीनीकरण मिशन के तहत खड़ी बसें शीघ्र ऑन रोड होंगी तथा बैट मोड पर चल रही सभी बसों की रिपोर्ट तलब की गई है, जिसके बाद घाटे के रूटों को बंद किया जाएगा। पत्रकारों से मुखातिब परिवहन मंत्री ने कहा कि पिछली सरकार के दौरान निगम की हालत खस्ता हुई है तथा इसे न केवल पटरी पर लाया जाएगा, बल्कि आने वाले समय में निगम प्रगति के नए आयाम भी स्थापित करेगा। उन्होंने जहां निगम कर्मचारियों की समस्याओं को शीघ्र हल करने की बात कही, वहीं प्रदेश में पर्यटन की अपार संभावनाएं व्यक्त करते हुए इसे रोजगार से जोड़ने का भी भरोसा दिलाया। परिवहन मंत्री ने अरुण मेहरा की मांग पर नगरोटा बगवां, बड़ोह तथा 61 मील में बस अड्डा प्रबंधन के निर्माण कार्यों में धन की कमी न आने देने का भरोसा दिलाया। उन्होंने कहा कि एक माह के भीतर मुख्यमंत्री नगरोटा बगवां का दौरा करेंगे ।

20 सदस्यों ने रखी बात

राज्यपाल के अभिभाषण पर चर्चा में 20 सदस्यों ने 333 मिनट अपनी बात रखी, जबकि  आखिरी दिन शुक्रवार को मुख्यमंत्री ने करीब एक घंटे तक चर्चा का जवाब दिया। सत्र में दो अध्यादेश भी प्रस्तुत हुए।

You might also like