ऊना में सोशल मीडिया पर इजहार-ए-इश्क

ऊना— ऊना में वेलेंटाइन डे का क्रेज फीका ही रहा। युवक-युवतियों ने अपने प्यार का इजहार करने के लिए सोशल मीडिया को ही अपना सहारा बनाया। महाशिवरात्रि के उपलक्ष्य में छुट्टी होने के कारण शिक्षण संस्थान भी बंद रहे। इस कारण शहर में भी रौनक कम देखने को मिली। युवक-युवतियों ने अपने फ्रेंड्स को व्हाट्स ऐप के माध्यम से मैसेज भेजकर अपने प्यार का इजहार किया। वहीं फेसबुक पर भी युवाओं ने वेलेंटाइन डे की बधाइयां एक-दूसरे को दी। हालांकि फूलों की बिक्री को एक-दो दिन पहले से काफी युवाओं में देखने को मिला। गुलाब के फूल की ली इसकी कीमत पहले 40 से 50 रुपए थी। इसकी कीमत बढ़कर 100 रुपए तक पहुंच गई। शहर में गिफ्ट गैलरियों व फूलों की दुकानों में भी खरीददार कम ही नजर आए। दुकानदारों की मानें तो पहले की मुकाबले युवा अब कम खरीददारी करते हैं। आजकल के जमाने में युवा वर्ग मोबाइल फोन पर ही एक-दूसरे को विश कर रहे हैं। गुलाब के अलावा युवक-युवतियों ने अपने फ्रेंड्स को टेडी बियर, चॉकलेट, प्लॉवर पोट्स, बुके, आर्टिफिशिल ज्वेलरी, हार्ट पिल्लो की भी खरीददारी युवाओं ने की।

हिंदू संस्कृति के विरुद्ध वेलेंटाइन डे

वेलेंटाइन डे को हिंदू संस्कृति के विरुद्ध करार देने के लिए सोशल मीडिया पर कई के संदेश भी देखने को मिले। इसमें वेलेंटाइन डे का विरोध किया गया था और इस दिन को शहीद भगत सिंह, राजगुरु व सुखदेव की शहादत के दिन के साथ जोड़कर दिखाया गया।

हफ्ते भर से ही बिजी शेड्यूल

हालांकि वेलेंटाइन डे वीक के दौरान शैक्षणिक संस्थानों में काफी रौनक देखने को मिली थी। इसमें युवक-युवतियों ने सात से 14 फरवरी तक मनाए जाने वाले विभिन्न दिनों में एक-दूसरे को प्रोपोज व गिफ्ट दिए। सात फरवरी को रोज डे, आठ को प्रोपोज डे, नौ को चॉकलेट डे, दस को टेडी डे, 11 को प्रोमिस डे, 12 को किस डे, 13 को हग डे तथा 14 फरवरी को वेलेंटाइन-डे मनाया गया।

You might also like