दो मुकाबले…पर सब एक जैसा

जिम्बाब्वे बनाम अफगानिस्तान वनडे सीरीज में चमत्कार

शारजाह— क्रिकेट को अनिश्चितताओं का खेल कहा जाता है, मैदान पर कभी भी कुछ भी ऐसा हो सकता है, जिस पर विश्वास करना मुश्किल हो। अब ऐसा ही कुछ हुआ है, यूएई में चल रही जिम्बाब्वे और अफगानिस्तान के बीच वनडे सीरीज के पहले दो मैचों के दौरान। इन दो मैचों में पहली इनिंग में बराबर स्कोर बने और दूसरी इनिंग में अपोजिट टीम भी एक जैसे स्कोर पर सिमट गई। यहां तक की जीत का फासला भी दोनों मैचों में बराबर ही रहा, जिसके बाद क्रिकेट फैंस एक बार फिर यकीन करने पर मजबूर हो गए कि क्रिकेट में कुछ भी असंभव नहीं है। सीरीज के पहले वनडे में अफगानिस्तान ने पहले बैटिंग करते हुए पांच विकेट पर 333 (50 ओवर) रन बनाए थे। जवाब में जिम्बाब्वे की टीम 179 रन पर ऑलआउट हो गई थी और अफगानिस्तान ने यह मैच 154 रन से जीत लिया था। उधर, दूसरे वनडे में जिम्बाब्वे की टीम ने पहले बैटिंग की और उसने अफगानिस्तान को हू-ब-हू उसी अंदाज में हराया, जैसे उसे पहले वनडे में हार मिली थी। जिम्बाब्वे की टीम ने भी पहले खेलते हुए 50 ओवरों में पांच विकेट पर 333 रन बनाए। इसके जवाब में अफगानिस्तान की टीम भी 179 रन पर ऑलआउट हो गई, जिसके बाद जिम्बाब्वे ने भी यह मैच 154 रन से जीत लिया।

पहले शाह फिर टेलर छाए

पहले वनडे में जहां अफगानिस्तान की टीम से एक बैट्समैन रहमत शाह ने सेंचुरी लगाई थी, वहीं दूसरे वनडे में जिम्बाब्वे की टीम से भी एक सेंचुरी लगी, जो कि ब्रैंडन टेलर ने लगाई।

पहले राशिद के चार विकेट दूसरे मैच में क्रीमर के चार विकेट पर टीमों को जिता नहीं पाए

बॉलिंग के दौरान पहले वनडे में विनिंग टीम के लिए राशिद खान ने चार विकेट लिए थे, वहीं दूसरे वनडे में विनर टीम जिम्बाब्वे के लिए ग्रीम क्रीमर ने चार विकेट लिए। ये दोनों बॉलर्स ही हारे हुए मैचों में भी अपनी टीम के हाइएस्ट विकेट टेकर बॉलर साबित हुए थे।

You might also like