हिमाचल में सौ से ज्यादा सड़कें बंद

बर्फबारी से जनजीवन अस्त-व्यस्त, कई क्षेत्रों का संपर्क प्रदेश के दूसरे हिस्सों से कटा

शिमला— हिमाचल प्रदेश में लगातार हो रही बर्फबारी से जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है। बर्फबारी से राज्य के ऊंचाई वाले इलाकों में सड़क यातायात बुरी तरह से प्रभावित हुआ है। लाहुल- स्पीति और पांगी क्षेत्रों में अधिकांश सड़कें बंद हो गई हैं। वहीं शिमला, किन्नौर, मंडी और कुल्लू जिला में कई सड़क मार्ग अवरुद्ध हो गए हैं। हालांकि लोक निर्माण विभाग ने सड़कों को बहाल करने का काम मंगलवार देर शाम तक जारी रखा, इसके बावजूद करीब एक सौ सड़कें राज्य के विभिन्न क्षेत्रों में बंद पड़ी हुई हैं। बीते दो दिन से हो रही बर्फबारी जहां खेती व बागबानी के लिए राहत लेकर आई है, वहीं यह कई जगह आफत लेकर आई है। बर्फबारी के कारण ऊंचाई वाले इलाकों में कई सड़कों बंद हो गई हैं, जिससे इन क्षेत्रों का संपर्क राज्य के दूसरे हिस्सो से कट गया है। जानकारी के अनुसार राज्य में मंगलवार दोपहर तक तक करीब 167 सड़कें बर्फबारी से बंद हो गई थीं। इनमें सबसे ज्यादा 66 सड़कें मंडी जिला की थीं। यहां मंडी डिवीजन-एक के तहत 13 सड़कें, जबकि गोहर में 32 सड़कें और करसोग में 21 सड़कें बर्फबारी के चलते बंद हो गई हैं। शिमला जिला में करीब 51 सड़कें बंद हुई हैं। इनमें सबसे ज्यादा सड़कें रोहडू और चौपाल क्षेत्र की हैं। चंबा में 14 सडकें बंद पड़ गई थीं, जिनमें चंबा में दो, सलूणी में छह और तीसा में चार सड़कें शामिल हैं। वहीं जनजातीय जिला किन्नौर और लाहुल-स्पीति में बर्फबारी से करीब डेढ़ दर्जन सड़कें अवरुद्ध हुई हैं। इनमें लाहुल-स्पीति के काजा में 11 सड़कें और किन्नौर के कड़छम में चार और कल्पा में तीन सड़कें बंद हुई हैं। बर्फबारी के बाद बंद पड़ी सड़कों को खोलने के लिए लोक निर्माण विभाग ने युद्ध स्तर पर काम शुरू किया है। इसके तहत इन इलाकों में मशीनें लगाई गई हैं।

You might also like