बेटी होने पर 11 पौधे लगाएगा परिवार

देश की सबसे युवा प्रधान जबना चौहान की पंचायत थरजून में शुरू हुई रीत

मंडी – देश में सबसे युवा प्रधान बनने के बाद सुर्खियों में आई मंडी जिला की थरजूण पंचायत की प्रधान जबना चौहान की पंचायत में अब एक और नई रीत शुरू होने जा रही है। बेटी के जन्मदिवस पर अब पंचायत में खुशियां मनाने के साथ ही 11 पौधे भी लगाएंगे जाएंगे। बिटिया के जन्म के बाद परिवार 11 पौधे लगाएगा और उनका रखरखाव भी करेगा। थरजूण पंचायत में बेटी पैदा होने पर बेटी बचाओ-वन बचाओ और पौधा लगाओ योजना के तहत पौधारोपण करने का निर्णय लिया गया है। इस योजना के तहत गांव में पैदा होने वाली बेटी के जन्म पर जहां संबंधित परिवार को ‘मेरी लाड़ली’ योजना के तहत बधाई दी जाएगी। गांव में पैदा होने वाली लाड़ली बेटी के जन्म पर पौधारोपण किया जाएगा और पौधारोपण के तहत 11 पौधे इस लाड़ली बेटी के नाम पर लगाए जाएंगे। आठ मार्च को अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर प्रदेश सरकार की ओर से जबना चौहान को मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने राज्य स्तरीय पुरस्कार देखकर समाज के उत्थान व महिला सशक्तिकरण के लिए इनके द्वारा किए जा रहे उत्कृष्ट कार्यों के लिए सम्मानित किया है। जबना चौहान ने बताया कि भविष्य में जब भी गांव में कोई बेटी पैदा होगी, तो उसके जन्म पर परिजनों को गांववासियों के साथ मिलकर बधाई दी जाएगी। जबना चौहान मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर के विधानसभा क्षेत्र की थरजूण पंचायत की प्रधान हैं, जिन्हें देश की सबसे छोटी उम्र की प्रधान होने का गौरव प्राप्त है। पंचायत में स्वच्छता और नशा मुक्ति को लेकर की गई शराबबंदी के चलते जबना चौहान के फिल्म स्टार अक्षय कुमार, प्रदेश सरकार और पंजाब सरकार की ओर से सम्मान हासिल हो चुका है।

मझार गांव से हुई शुरुआत…

जबना चौहान ने सोमवार को इसकी शुरुआत स्थानीय पंचायत के मझार गांव में टीकम चांद के घर पैदा हुई लाड़ली बेटी के जन्म पर परिजनों को बधाई दी और पौधारोपण कर बेटी, वन और पर्यावरण संरक्षण को लेकर एक अनूठी पहल की।

You might also like