अंतिम दिन सोना लाई बेटी दीपिका-जोशना की चांदी

गोल्ड कोस्ट  – 21वें के अंतिम दिन रविवार को भारतीय खिलाडि़यों ने शानदार सफलता अर्जित करते हुए कुल सात पदक जीते। साइना ने देश को 26वां स्वर्ण पदक दिलाया, जबकि इसके अलावा भारत की झोली में चार सिल्वर और दो ब्रांज भी आए। भारत को अंतिम दिन बैडमिंटन से एक गोल्ड और दो सिल्वर मेडल हासिल हुए। महिला एकल वर्ग में जहां एक ओर साइना ने गोल्ड मेडल जीता, वहीं पीवी सिंधु को सिल्वर मेडल हासिल हुआ। महिला एकल वर्ग के गोल्ड मेडल का मुकाबला साइना और सिंधु के बीच ही था। वर्ल्ड नंबर-12 साइना ने इससे पहले 2010 में राजधानी दिल्ली में आयोजित कॉमनवेल्थ गेम्स में भी गोल्ड मेडल अपने नाम किया था। लंदन ओलंपिक की ब्रांज मेडल विजेता साइना ने गोल्ड मेडल के लिए खेले गए महिला एकल वर्ग के मैच में विश्व चैंपियनशिप में दो बार सिल्वर और ओलिंपिक में भी सिल्वर जीत चुकीं हमवतन सिंधु को मात देकर दूसरा गोल्ड मेडल अपने नाम किया।इसके अलावा, पुरुष एकल वर्ग में श्रीकांत को भी सिल्वर मेडल मिला। श्रीकांत का कॉमनवेल्थ गेम्स का पहला पदक है। भारत की महिला स्क्वॉश जोड़ी दीपिका पल्लिकल कार्तिक और जोशना चित्नप्पा ने महिला युगल के फाइनल में हार का सामना करना पड़ा और वह गोल्ड मेडल से चूक गईं।

देश           गोल्ड      सिल्वर    ब्रांज       कुल

आस्ट्रेलिया   80        59        59        198

इंग्लैंड         45        45        46        136

भारत          26        20        20        66

अचंत को एकल, साथियान-मणिका को मिश्रित युगल का कांसा

गोल्ड कोस्ट— भारत की मणिका बत्रा ने 21वें राष्ट्रमंडल खेलों के आखिरी दिन रविवार को जी साथियान के साथ टेबल टेनिस की मिश्रित युगल टीम स्पर्धा के कांस्य पदक मुकाबले में जीत दर्ज करते हुए इन खेलों का चौथा पदक अपने नाम किया जबकि पुरुष एकल के कांस्य पदक मुकाबले में अचंत शरत कमल पदक जीतने में कामयाब रहे।  शरत के लिए यह राष्ट्रमंडल में तीसरा एकल पदक है।

एशियन गेम्स में बॉक्सर्स जड़ेंगे मुक्के

गोल्ड कोस्ट— कॉमनवेल्थ गेम्स में भारतीय मुक्केबाजों का प्रदर्शन बेहद शानदार रहा। बॉक्सिंग में भारत को कुल 9 पदक मिले। जिसमें 3 गोल्ड, 3 सिल्वर, 3 ब्रांज मेडल शामिल रहे. गौरव सोलंकी, विकास कृष्ण को गोल्ड मिला। सतीश कुमार, अमित, और मनीष कौशिक को सिल्वर मेडल हासिल हुआ। भारतीय बॉक्सिंग टीम के चीफ कोच एसआर सिंह मुक्केबाजों के प्रदर्शन से बेहद खुश हैं। उन्होंने बताया कि इस प्रदर्शन का फायदा मुक्केबाजों को एशियन गेम्स में मिलेगा।

गोल्ड कोस्ट में दिखी भारत की नारी शक्ति

नई दिल्ली— भारतीय महिला खिलाडि़यों ने गोल्ड कोस्ट राष्ट्रमंडल खेलों में भारत के जीते पदकों में एक तिहाई से ज्यादा बहुमत साबित करते हुए लगभग आधे पदक हासिल किए। विजेताओं में सायना नेहवाल, एमसी मैरीकॉम, मनु भाकर, हीना सिद्धू, तेजस्विनी सावंत और श्रेयसी सिंह, मणिका बत्रा और मीराबाई चानू, संजीता चानू और पूनम यादव तथा पहलवान विनेश फोगाट शामिल रहे।

भारत के 500 पदक पूरे

गोल्ड कोस्ट— भारत ने अपने खिलाडि़यों के शानदार और दमदार खेल की बदौलत 26 स्वर्ण, 20 रजत और 20 कांस्य सहित कुल 66 पदक जीतकर गोल्ड कोस्ट में 21वें राष्ट्रमंडल खेलों में अपने इतिहास का तीसरा सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया। भारत ने इन 66 पदकों के साथ राष्ट्रमंडल खेलों के इतिहास में 500 पदक भी पूरे कर लिए और यह उपलब्धि हासिल करने वाला वह पांचवां देश बन गया।

जीवनसंगी की तलाश हैतो आज ही भारत  मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें– निःशुल्क  रजिस्ट्रेशन करे!

You might also like