एनकाउंटर से बचना है तो भाजपा नेताओं से करो डील

उत्तर प्रदेश के एक एसएचओ का ऑडियो वायरल, किया सस्पेंड

झांसी – असामाजिक तत्त्वों के खिलाफ सुर्खियां बन रहा मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का एनकाउंटर अभियान विवादों में आ गया है। उत्तर प्रदेश के झांसी जिला में तैनात एक एसएचओ का ऑडियो वायरल होने के बाद उसे सस्पेंड कर दिया गया है। इस ऑडियो में एसएचओ एक कुख्यात हिस्ट्रीशीटर को एनकाउंटर की धमकी देते हुए कह रहा है कि अगर उसे एनकाउंटर से बचना है तो वह भाजपा नेताओं को मैनेज कर ले। यह वीडियो शनिवार को व्हाट्सऐप पर वायरल हुआ था, जिसके बाद एसएसपी ने एसएचओ को तत्काल सस्पेंड कर दिया। एसएसपी झांसी विनोद कुमार सिंह ने बताया कि मौरानीपुर के एसएचओ सुनीत कुमार सिंह को निलंबित कर दिया गया है। उन पर लगे आरोप की जांच के लिए कमेटी गठित की गई है। इस ऑडियो में सुनीत कुमार सिंह पूर्व ब्लॉक प्रमुख लेखराज सिंह को धमकी दे रहे हैं। लेखराज सिंह पर डकैती, लूट और हत्या के 70 से ज्यादा मामले दर्ज हैं। एसएचओ धमकी दे रहे हैं कि उन्होंने कई अपराधियों को मारा है और जल्द ही उन्हें भी इस तरह की किसी घटना का सामना करना पड़ सकता है। इसके बाद वह लेखराज से कह रहे हैं कि कि मैं तुम्हें सुझाव देता हूं कि संजय दुबे और राजीव सिंह परीछा को मैनेज कर लो। ऐसा करने से ही तुम्हें कुछ राहत मिल सकती है। अगर ऐसा नहीं किया तो फिर कुछ भी हो सकता है। संजय दुबे भाजपा के जिला अध्यक्ष हैं, जबकि राजीव सिंह बबीना से भाजपा विधायक हैं। पुलिसवालों का कहना है कि यह ऑडियो क्लिप हाल ही की है। लेखराज को डर था कि उसका एनकाउंटर हो सकता है, इसलिए उसने एसएचओ को फोन किया था। पूरी ऑडियो क्लिप में लेखराज पुलिसवाले से कहता सुनाई दे रहा है कि उसे माफ कर दो, जबकि एसएचओ कह रहे हैं कि वह सरेंडर दे नहीं तो वह कुछ नहीं कर सकते हैं। शुक्रवार को एसएचओ उनकी टीम के साथ लेखराज को गिरफ्तार करने उसके हरकरनपुरा गांव गए थे। इस दौरान लेखराज और उनके समर्थकों ने पुलिस और उनकी टीम पर खुलेआम फायरिंग की थी। इस मामले में लेखराज और उसके दो बेटों के खिलाफ धारा-307 के तहत एफआईआर दर्ज की गई थी।

जीवनसंगी की तलाश हैतो आज ही भारत  मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें– निःशुल्क  रजिस्ट्रेशन करे!

You might also like