सेल्जमैन से शुरू हुआ सफर …

अरशद को फिल्मों में पहचान ‘मुन्नाभाई एमबीबीएस ’ फिल्म के जरिए मिली। इस फिल्म में उन्होंने सर्किट की भूमिका अदा की थी। इस फिल्म में वह संजय दत्त के दाहिने हाथ के तौर पर नजर आए थे।  इस फिल्म में उनके अभिनय को दर्शकों द्वारा इतना पसंद किया गया कि उन पर जोक्स भी बनने लगे।  इसके बाद वह एक बार फिर राजू हिरानी की फिल्म ‘लगे रहो मुन्ना भाई’ में नजर आए…

बॉलीवुड एक्टर अरशद वारसी को फिल्म इंडस्ट्री में बेहतरीन कॉमिक टाइमिंग के लिए जाना जाता है। मगर यह बात बहुत ही कम लोग जानते हैं कि वह फिल्मों में आने से पहले सेल्समैन का काम किया करते थे। हालांकि इसका कारण कमजोर आर्थिक स्थिति थी। इसके बाद अरशद ने फोटो लैब में भी काम किया और फिर कुछ समय बाद डांसिंग ग्रुप ज्वाइन कर लिया। अरशद मुंबई के मुस्लिम परिवार से ताल्लुक रखते हैं। अरशद की प्रारंभिक शिक्षा नासिक, महाराष्ट्र में हुई। हालांकि दसवीं के बाद ही अरशद ने स्कूल छोड़ दिया था। अरशद की पत्नी मारिया गोरेट्टी एक वीजे हैं। दोनों की मुलाकात अरशद की डांस एकेडमी में हुई थी।

करियर

अरशद का शुरुआती हिंदी सिनेमा करियर बेहद संघर्षपूर्ण रहा।  उन्हें हिंदी सिनेमा में अभिनय करने का पहला मौका अमिताभ बच्चन की कंपनी की फिल्म ‘तेरे मेरे सपने’ से मिला। उन्हें उस दौर में कई फिल्में मिली, लेकिन वह हिंदी सिनेमा में किसी नजर में नहीं आए।  उन्हें हिंदी सिनेमा में पहचान राजू हिरानी निर्देशित फिल्म ‘मुन्नाभाई एमबीबीएस’ के जरिए मिली। इस फिल्म में उन्होंने सर्किट की भूमिका अदा की थी। इस फिल्म में वह संजय दत्त के दाहिने हाथ के तौर पर नजर आए थे।  इस फिल्म में उनके अभिनय को दर्शकों द्वारा इतना पसंद किया गया कि उन पर जोक्स भी बनने लगे।  इसके बाद वह एक बार फिर राजू हिरानी की इस फिल्म के सीक्वल ‘लगे रहो मुन्ना भाई’ में नजर आए।  दोनों ही फिल्मों में उन्हें उनके बेहतरीन प्रदर्शन के लिए कई सारे अवार्ड्स से भी सम्मानित किया गया।

छोटे पर्दे पर सितारों की एक अलग पहचान होती है। इससे आप दर्शकों से आसानी से जुड़ सकते हैं। राजू हिरानी की फिल्मों से हिट होने के बाद वह निर्देशक रोहित शेट्टी की ‘गोलमाल’ सीरीज में नजर आए।  जिसमें दर्शकों द्वारा उन्हें बेहद पसंद किया गया।  अरशद सिर्फ  कॉमिक रोल ही नहीं, बल्कि इंटेंसिव रोल भी बेहद उम्दा तरीके से अदा करते हैं।  यह उन्होंने फिल्म ‘इश्किया और डेढ़ इश्किया’ में साबित कर दिया।  इन दोनों ही फिल्मों में उनके द्वारा निभाई गई भूमिका आलोचकों और दर्शकों द्वारा सराही गई थी। अरशद छोटे पर्दे का भी अनुभव लेना चाहते थे।  और छोटे पर्दे पर ‘बिग बॉस के सीजन 1’ को होस्ट किया है।

You might also like