हिमाचल में बनेंगे 52 हेलिपैड

पर्यटन निखारने के साथ आपदाओं के समय भी उपयोग पर नजर

शिमला— हेलिपैड निर्माण के लिए जयराम सरकार ने हिमाचल में 52 लोकेशन चिन्हित की हैं। इस मेगा प्रोजेक्ट से प्रदेश में पर्यटन की संभावनाएं विकसित होंगी और आपदा के समय बचाव व राहत कार्यों में लाभ मिलेगा। आपदा प्रबंधन निदेशालय और सीएम ऑफिस के विशेष दल ने संभावित स्थलों का चयन कर यह सूची सरकार को सौंपी है। इस आधार पर अब राज्य के हर ब्लॉक में हेलिपैड का निर्माण होगा। सरकार को भेजी गई रिपोर्ट में कहा गया है कि प्रदेश भर में 52 और हेलिपैड स्थापित हो सकते हैं। इससे राज्य की दुर्गम तथा ठेठ ग्रामीण इलाके भी हवाई सुविधा से जुड़ सकेंगे। उल्लेखनीय है कि इसी सप्ताह हिमाचल में हेलि एंबुलेंस सेवा के लिए राज्य सरकार तथा मनाली की निजी संस्था के बीच एमओयू पर साइन हो रहे हैं। इसके अलावा राज्य सरकार चंडीगढ़-शिमला में मिली कामयाबी के बाद रोहतांग दर्रे में ज्वॉय राइडिंग आरंभ कर रही है। इसी कड़ी में दूसरे चरण में धर्मशाला, त्रियुंड, डलहौजी, खजियार और चंबा के लिए हेलि टैक्सी सेवा शुरू करने पर सरकार विचाराधीन है। इस कड़ी में प्रदेश भर में हेलिपैड स्थापित किए जा रहे हैं। इनका निर्माण होने से प्रदेश के विभिन्न क्षेत्र भी  सीधे हवाई सेवा से जुड़ जाएंगे। भरमौर से लेकर किन्नौर तक, खजियार से लेकर मनाली तक प्रदेश का हर पर्यटन क्षेत्र सैलानियों के लिए सुविधाजनक हो जाएगा। पर्यटन के अलावा पहाड़ी प्रदेश हिमाचल को आपदा के दौरान भी इन हेलिपैड सेवाओं का भरपूर लाभ मिलेगा। बताते चलें कि प्रदेश में बरसात के मौसम में मूसलाधार बारिश और बाढ़ से हर साल भारी तबाही मचती है। भू-स्खलन के कारण भी प्रदेश का जन-जीवन अस्त-व्यस्त रहता है। देवभूमि की सर्पीली सड़कों के कारण सड़क हादसे हिमाचल को गहरे जख्म देते हैं। प्रदेश में चार दर्जन से ज्यादा और हेलिपैड निर्माण होने से आपदा प्रबंधन का ढांचा मजबूत होगा।

हेलिपैड के लिए संभावित स्थल

जिला शिमला के डोमेहर, बोसारी, पोडूल, ससकीर, पुंडराडा, फांचा, जिला बिलासपुर के धलेट, जिला सोलन के सकोर, पट्टा, जिला लाहुल-स्पीति के हंशा व माने योगमा, जिला सिरमौर के मटर, भोग बटेवरी व पुरुवाला, जिला किन्नौर के काशपो, जिला कांगड़ा के लोधवां खास, तमोटा, मंढोट, भटोली, घर, हारा, छल, रसूह, खैरियां, दियोठी, टापा, धोरन  खास, कोहर खास, घारना, जाडामान व बंधोल, जिला मंडी के कोट, हियूण, जाये व खखरियाना, जिला चंबा के भटवारा, डुप्पर, ठुंडू, धरोंडा, दांदी, तियारी, गुमरा, टेप्पा, जिला हमीरपुर के पंसाई, जिला कुल्लू के कोहिला, चेथड़, शमशी व सरी।

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर-  निःशुल्क  रजिस्ट्रेशन!

You might also like