165 लीटर दूध फिंकवाया

हमीरपुर  – खाद्य सुरक्षा विभाग की टीम ने गुरुवार सुबह शहर में दूध विक्रेताओं के खिलाफ अभियान चलाया। इस दौरान विभाग की टीम ने पांच दूध विक्रेताओं  के दूध की जांच की। जांच के दौरान इन विक्रेताओं के दूध की गुणवत्ता कम मात्रा में पाई गई । दूध में पानी की मिलावट पाए जाने पर खाद्य सुरक्षा विभाग की टीम ने 165 लीटर दूध फिंकवा दिया। अभिहित अधिकारी अरुण कुमार ने इसकी पुष्टि की है। उन्होंने बताया कि जांच के दौरान दूध की गुणवत्ता मीटर पर कहीं 20 से 21 डिग्री और कहीं 25 से 26 डिग्री तक पाई गई है, जबकि मानक पर यह 30 डिग्री तक होना चाहिए। इसके अलावा एक विक्रेता दूध को चिल्ड ठंडा कर भी ले जा रहा था। उन्होंने बताया कि दूध को चिल्ड करने से मीटर में इसकी गुणवत्ता अधिक दर्ज होती है। ऐसे में विभाग की टीम ने इस चिल्ड दूध को उबाला गया, जिसके बाद इसकी गुणवता मीटर पर 18 डिग्री ही रह गई। अभिहित अधिकारी अरुण इन विक्रेताओं में से केवल एक के पास ही मिल्क एंड प्रोडक्ट सप्लाई का लाइसेंस पाया गया, जबकि बाकी सभी बिना लाइसेंस के पाए गए। कार्रवाई के दौरान विभाग ने इन सभी को दो सप्ताह का अल्टीमेटम दिया गया है। इस अंतराल के मध्य इन सभी को अपने लाइसेंस बनवाने होंगे। उन्होंने बताया कि मनमर्जी करने वालों को विभाग पेनेल्टी डालेगा। गुरुवार सुबह चलाए गए इस अभियान में विभाग की टीम ने नादौन चौक, डंग क्वाली, प्रताप नगर व कोर्ट परिसर के समीप दबिश दी है। इस दौरान पकडे़ गया एक विक्रेता घरों में दूध को बेच कर वापस आ रहा था। अभिहित अधिकारी अरुण कुमार ने बताया कि गांव से शहर दूध लाकर बेचा रहे इन विक्रेताओं के खिलाफ  विभाग को ऑनलाइन शिकायत मिली थी। इसके उपरांत यह कार्रवाई अमल में लाई गई है।

 

You might also like