कांग्रेस को एक मंच पर लाएंगे सुधीर

राज्य के राजनीतिक समीकरणों पर पूर्व मंत्री की राहुल गांधी से गुफ्तगू

धर्मशाला— राज्य के राजनीति समीकरणों पर पूर्व मंत्री सुधीर शर्मा ने गुरुवार को कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी से घंटों गुफ्तगू की। राज्य में कांग्रेस प्रभारी रजनी पाटिल के प्रवास के दौरान पार्टी अध्यक्ष सुखविंदर सिंह सुक्खू और वीरभद्र सिंह की खेमेबाजी के बीच बंटी कांग्रेस को एक मंच पर लाना बड़ी चुनौती है। ऐसे में कांगड़ा संसदीय क्षेत्र के अधिकतर नेताओं को करीब आधा दर्जन कार्यक्रमों में एक साथ जोड़ने की पहल कर सुधीर शर्मा ने कांग्रेस के भीतर नए सियासी समीकरण घड़े हैं। अब सुधीर शर्मा उसी फार्मुले को पूरे प्रदेश में लागू करने के प्रयास कर रहे हैं। हिमाचल में कांग्रेस को फिर से एकजुट करने को लेकर उन्होंने राहुल गांधी से घंटों चर्चा की। कांगड़ा जिला के करीब आधा दर्जन विधानसभा क्षेत्रों के नेताओं की भी श्री गांधी से मुलाकात कर हालात बताए, जिसके परिणाम आने वाले दिनों में देखने को मिल सकते हैं। कांगड़ा के सात कांग्रेस नेताओं ने गुरुवार को पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी से मुलाकात की।  राहुल गांधी के पास पूर्व मंत्री सुधीर शर्मा, कांगड़ा के विधायक पवन काजल, पूर्व सीपीएस जगजीवन पाल, पूर्व विधायक अजय महाजन, संजय रतन, यादविंद्र गोमा और केवल सिंह पठानिया पहुंचे हुए थे। मीटिंग में प्रदेश के राजनीतिक परिदृष्य के अलावा कांगड़ा संसदीय क्षेत्र की कांग्रेसी राजनीति पर भी विशेष चर्चा की गई। इसके साथ ही लोकसभा चुनाव से पहले बन रहे समीकरणों पर भी बातचीत हुई। इस दौरान पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी के अलावा पार्टी महासचिव अशोक गहलोत सहित अन्य बरिष्ठ कांग्रेस नेताओं से भी मुलाकात कर सियासी चर्चा की गई। उधर, दिल्ली पहुंची टीम का कहना है कि यह मुलाकात पार्टी की एकजुटता व आगामी लोकसभा चुनावों को लेकर थी। इस मुद्दे पर पार्टी अध्यक्ष ने विशेष रुचि दिखाते हुए गंभीरता से काम करने को कहा है।

You might also like