कांग्रेस प्रभारी रजनी बोलीं, मोदी ने ठगी जनता

 ठियोग  —ठियोग में शुक्रवार को कांग्रेस का जिला सम्मेलन आयोजित किया गया। इसमें कांग्रेस प्रभारी रजनी पाटिल के अलावा पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह तथा कांग्रेस की वरिष्ठ नेता विद्या स्टोक्स, पार्टी अध्यक्ष सुखविंद्र सिंह सुक्खू, नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्निहोत्री, पूर्व सीपीएस रोहित ठाकुर, विधायक नंदलाल अनिरुद्ध सिंह, मोहन लाल ब्रागटा, सुभाष मंगलेट, जिला अध्यक्ष यशवंत छाजटा, ठियोग ब्लॉक अध्यक्ष ब्रह्मानंद शर्मा, जुब्बल कोटखाई अध्यक्ष मोतीलाल डेरटा सहित कई अन्य पदाधिकारियों ने भाग लिया। इस दौरान सम्मेलन में कांग्रेस प्रभारी रजनी पाटिल ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को हिटलर की संज्ञा दी है। उन्होंने कहा कि केंद्र में सरकार बनने से पहले देश की जनता से बड़े-बड़े वादे किए गए थे, लेकिन एक भी वादा पूरा नहीं हो पाया। उन्होंने कहा कि सत्ता में आने से पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने विदेश से काला धन वापस लाकर हर भारतीय के खाते में 15-15 लाख डालने की बात कही थी, लेकिन हुआ कुछ नहीं। उनका वादा झूठा निकला। उन्होंने कहा कि किसानों-बागबानों के लिए कोई नीति नहीं बनाई जा रही, जिस कारण कृषि क्षेत्र से जुड़े किसान परेशान हैं और किसान आत्महत्या कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र में अकेले तीन हजार किसानों ने आत्महत्या की है। उन्होंने कहा कि केंद्र की मोदी सरकार द्वारा नोटबंदी करके महिलाओं द्वारा घरों में मुसीबत के लिए रखे पैसों को भी खत्म कर दिया गया। उन्होंने कहा कि 2019 में होने वाले चुनाव के लिए कांग्रेस पार्टी से जुड़े सभी कार्यकर्ताओं को एकजुट होना होगा।

सुक्खू ने उठाए सवाल

प्रदेश अध्यक्ष ठाकुर सुखविंदर सिंह सुक्खू ने अपनी ही पार्टी के वरिष्ठ नेताओं से सवाल किया है कि आखिर विधानसभा चुनाव में ऐसी क्या कमजोरी रही कि वीरभद्र सिंह को मंडी में सीएम का उम्मीदवार घोषित करने व पार्टी द्वारा चुनाव में पूरी तरह से साथ देने के बावजूद कांग्रेस अपनी सरकार नहीं बना पाई। उन्होंने कहा कि शायद आपसी गुटबाजी से ही प्रदेश में कांग्रेस की सरकार नहीं बन पाई है और हम लोगों को विपक्ष में बैठना पड़ा। उन्होंने कहा है कि जो गलती विधानसभा चुनाव में हुई थी वह दोबारा से न दोहराई जाए।

मुकेश ने कसे तंज

नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्निहोत्री ने कहा है कि अनुभवहीन होने के कारण मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर अपने नेताओं से सलाह लेने में अधिकतर समय गुजार रहे हैं। जयराम ठाकुर सुबह का नाश्ता शांता कुमार के घर में, दिन को लंच धूमल के घर में करते हैं जबकि डिनर नड्डा के घर में होता है। सरकार के छह महीने का कार्यकाल मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर के वरिष्ठ नेताओं की सलाह लेने में निकल गया।

You might also like