किसी के कहने से कुछ नहीं होता

रजनी पाटिल बोलीं, कोई समस्या हो तो सोनिया-राहुल के समक्ष रखें पक्ष

बिलासपुर— किसी के कहने से कुछ नहीं होता है। यदि कोई समस्या है तो सीधे पार्टी हाइकमान सोनिया गांधी व राहुल गांधी से मिलकर अपनी बात रखी जा सकती है, लेकिन सार्वजनिक तौर पर अपनी ही पार्टी के नेताओं पर छींटाकशी लोकसभा चुनाव में नुकसानदायक साबित हो सकती है। ऐसे में धड़ेबाजी में पिस रही कांग्रेस को एकजुट कर लोकसभा चुनाव 2019 में फतेह दिलाकर राहुल गांधी को प्रधानमंत्री बनाने का संकल्प पूरा किया जाएगा। यह बात कांग्रेस की प्रदेश प्रभारी रजनी पाटिल ने वीरभद्र द्वारा सुक्खू को हटाए जाने के लिए की जा रही बयानबाजी पर कही। उन्होंने कहा कि वीरभद्र सिंह उम्र में ही नहीं, बल्कि तजुर्बे में भी बहुत बड़े हैं। इस मसले पर उनसे बातचीत कर सारे गिले-शिकवे दूर कर एकजुट होकर लोकसभा की लड़ाई लड़ी जाएगी। शुक्रवार को शिमला ग्रामीण के सम्मेलन में वीरभद्र सिंह सहित सारी पार्टी को एकजुट कर जीत का संकल्प लिया जाएगा।  धड़ेबाजी को खत्म कर अब सभी को कांग्रेस के बैनर तले एक होकर कार्य करना है। जिलों के बाद अब ब्लॉक और फिर बूथ स्तर पर जाकर वर्कर्ज से सीधा संवाद स्थापित कर पार्टी की ग्राउंड रिपोर्ट हाइकमान को प्रेषित की जाएगी। इससे पहले संगठनात्मक शिविरों का आयोजन कर पार्टी का शीर्ष नेतृत्व गुलाम नबी आजाद, अशोक गहलोत व शशि थरूर इत्यादि मास लीडर एक-एक विषय पर वर्करज को ट्रेंड करेंगे। सम्मेलन में रजनी पाटिल ने नेताओं द्वारा हमीरपुर सीट से उधारी के लीडर उतारे जाने से हो रहे नुकसान पर दोटूक कहा कि हमीरपुर संसदीय क्षेत्र में पिछले 25 सालों से लगातार पराजय का सामना कर रही कांग्रेस को विजयी बनाने के लिए अब उधारी का नहीं, बल्कि किसी सक्षम नेता को रण में उतारा जाएगा। सम्मेलन में सहप्रभारी गुरकीरत सिंह, बंबर ठाकुर, जिलाध्यक्ष कमलेंद्र कश्यप व विकास ठाकुर सहित अन्य नेता भी मौजूद रहे।

डेंगू पर नड्डा को लिखेंगे पत्र

सम्मेलन में नेताओं के निशाने पर जेपी नड्डा ही रहे। पार्टी प्रभारी रजनी पाटिल ने भी नड्डा को बिलासपुर में फैले डेंगू पर कहा कि वह दिल्ली जाकर नडडा से पूछेंगी कि पूरी दुनिया में घूम रहे, लेकिन अपने गृह क्षेत्र की सुध क्यों नहीं ली जा रही। इस बाबत एक पत्र नड्डा को भेजा जाएगा।

यह बोले बंबर ठाकुर

पूर्व विधायक बंबर ठाकुर ने चुनाव में हुई हार के लिए किसी का नाम लिए बगैर ही मंच पर विराजमान कुछ नेताओं को जिम्मेदार ठहरा दिया। इन नेताओं की कार्यप्रणाली पर ही सवाल खड़े करते हुए उन्होंने बातों ही बातों में हमीरपुर सीट से अपनी दावेदारी भी पेश कर दी।

लोकसभा चुनाव की परफार्मेंस तय करेगी नेताओं का भविष्य

बिलासपुर— कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष सुखविंद सुक्खू ने दोटूक कहा है कि जब तक मंच से नेता एक-दूसरे के खिलाफ टीका-टिप्पणी बंद नहीं करेंगे, तब तक वर्कर्ज का बंटवारा भी खत्म नहीं होगा। ऐसे में इस खाई को पाटने के लिए सभी एकजुट होकर चलेंगे तो कांग्रेस को विजयी होने से कोई नहीं रोक पाएगा। इसके साथ ही सुक्खू ने यह भी स्पष्ट कहा कि लोकसभा चुनाव में विधायकों और पूर्व विधायकों की परफार्मेंस की भी परख होगी। विधानसभा चुनाव में चाहे कोई आठ हजार से ही क्यों नहीं हारा हो, लेकिन लोकसभा चुनाव की परफार्मेंस ही अगले विधानसभा चुनाव में उसका भविष्य तय करेगी। किसान भवन में आयोजित पार्टी सम्मेलन में श्री सुक्खू ने बिलासपुर से ताल्लुक रखने वाले वरिष्ठ नेता रामलाल ठाकुर से सभी नेताओं को साथ लेकर चलने का आग्रह किया और कहा कि हमीरपुर सीट हर हाल में फतह करनी है।

अपनी ही पार्टी के नेता पर खेलेंगे दांव

बिलासपुर—  सदन में विपक्ष के नेता मुकेश अग्निहोत्री ने सम्मेलन में रामलाल ठाकुर द्वारा उठाए गए उधारी के लीडर के बजाय पार्टी के ही सक्षम नेता पर दांव खेलने की बात का समर्थन किया। उन्होंने कहा कि अब सभी एकजुट होकर आगे बढ़ेंगे और लोकसभा चुनाव में पूरी संजीदगी के साथ काम होगा, ताकि लोकसभा चुनाव में चारों सीट पर जीत सुनिश्चित की जा सके। उन्होंने सांसद अनुराग ठाकुर से सवाल उठाया कि रेल योजनाओं को लेकर बड़े-बड़े दावे किए जा रहे हैं। यदि ऐसा है तो आज तक तो रेल लेह तक पहुंच जानी चाहिए थी। जनता अब झूठे भाषणों व घोषणाओं से बहकावे में आने वाली नहीं है।

You might also like