गिरी नदी में सिल्ट भरने से पानी की सप्लाई पर पड़ा असर

ठियोग – पिछले तीन दिनों से हो रही भारी बारिश के कारण आईपीएच की स्कीमों में सिल्ट भरने से पंपिंग नहीं हो रही है। जिस कारण ठियोग शहर में पानी की आपूर्ति सूचारू रूप से नहीं हो पा रही है। ठियोग के लिए गिरी नदी व चिखड़ खड्ड से पानी की सप्लाई दी जाती है, लेकिन दोनों योजनाओं में बारिश के कारण सिल्ट ज्यादा बड़ गई, जिससे कि पंपिंग नहीं हो पा रही और पानी की स्टोरेज कम होने के कारण कई जगह पानी की सप्लाई पूरी नहीं दी जा रही। विभाग के अधिकारियों का कहना है कि भारी बारिश के कारण यह समस्या पैदा हुई है और कई जगह पानी की सप्लाई पर असर पड़ा है। ठियोग में प्रतिदिन चार लाख लीटर पानी की खपत है। ठियोग शहर में विभाग के पास तीन लाख 21 हजार लीटर पानी को स्टोर करने की भी क्षमता है, लेकिन पानी की पंपिंग न होने के कारण ये परेशानी शहरवासियों को झेलनी पड़ रही है। चार लाख लीटर पानी को स्टोर करने के लिए 18 घंटे की पंपिंग करनी पड़ती है, लेकिन इन दिनों यह क्षमता से कहीं कम है। चिखड़ खड्ड से ठियोग के छेईधाला सहित रहीघाट, सिविल अस्पताल ठियोग आदि में भी नियमित सप्लाई न होने से समस्या आ रही है। क्योंकि यहां के लिए चिखड़ खड्ड से ही पानी आ रहा है। ठियोग शहर में वैसे भी तीन दिन के बाद पानी की सप्लाई दी जाती है, लेकिन फिर भी यदि पानी सप्लाई में कमी आती है तो ये लोगों के लिए परेशानी पैदा कर देता है। ठियोग में विभाग के सहायक अभियंता रविकांत का कहना है कि गिरी खड्ड व चिखड़ खड्ड में सिल्ट ज्यादा भर गई है, जिससे कि पंपिंग कम हो रही है, जितना पानी स्टोर हो रहा है वो बांटा जा रहा है।

 

You might also like