जाछ प्राइमरी स्कूल का भवन धड़ाम

 करसोग  —बेतहाशा वर्षा के कारण गत रात्रि राजकीय प्राथमिक पाठशाला जाछ का भवन असुरक्षित घोषित होने से पहले ही धराशाई होते हुए दम तोड़ गया है। मिली जानकारी के अनुसार उप तहसील पांगना के अंतर्गत ग्राम पंचायत झुंगी में राजकीय प्राथमिक पाठशाला जाछ का यह भवन लगभग 56 वर्ष पुराना था जिस को असुरक्षित घोषित करवाने के लिए कई सालों से काफी मशक्कत जारी रखी गई हुई है। प्राथमिक पाठशाला जाछ का दशकों से जर्जर हो चुका यह भवन असुरक्षित घोषित होने का प्रमाण पत्र पा लेता उससे पहले ही इंद्र देवता के दिखाए कमाल के आगे मिट्टी पत्थर स्लेट का स्कूल भवन दम तोड़ते हुए बिखर गया। गनीमत है कि उक्त पाठशाला का भवन रात के समय गिरा यदि दिन के समय गिरता तो शायद यह घटना काफी गंभीर हो सकती थी। एसएमसी अध्यक्ष कलादेवी, ग्राम पंचायत झुंगी प्रधान प्रमिला देवी, स्थानीय गांव निवासी भीम सिंह आदि ने जानकारी देते हुए कहा की राजकीय प्राथमिक पाठशाला जाछ का दो कमरों वाला भवन जो कि लगभग साढे पांच दशक पुराना था वह जर्जर हो चुका था उसे गिराने के लिए असुरक्षित घोषित करवाने की मशक्कत कई वर्षों से की जा रही थी। उन्होंने बताया कि लगभग छह वर्ष पहले 2012 में इस भवन को गिराने के लिए सरकारी स्वीकृति को लेकर आसुरक्षित घोषित करवाने का प्रयास शुरू किया गया, परंतु बात सिरे नहीं चढ़ सकी जिसके चलते लगभग दो साल पहले जर्जर भवन किसी गंभीर दुर्घटना को अंजाम नहीं दे सके इसके लिए इसी भवन को फिर से असुरक्षित घोषित करवाने की प्रक्त्रिया शुरू की गई जिसमें गत वर्ष संयुक्त निरीक्षण भी हो चुका है परंतु गिराने के आदेश नहीं मिले थे। इसकी जानकारी शनिवार को पाठशाला में पहुंचने पर अध्यापकों को मिली। पाठशाला के मुख्य शिक्षक मान सिंह ने कहा कि राजकीय प्राथमिक पाठशाला जांच का भवन बुरी तरह क्षतिग्रस्त होने बारे पूरी जानकारी अपने उच्च अधिकारियों को दे दी गई है। वहीं उप तहसील पांगना के नायब तहसीलदार दौलत सिंह ठाकुर ने कहा कि पाठशाला भवन गिरने से जानकारी मिली है जिसमें संबंधित क्षेत्र के पटवारी को रिपोर्ट करने के लिए दिशा निर्देश दे दिए गए हैं तथा भवन को भी असुरक्षित घोषित करने की कार्रवाई चली हुई है।

You might also like