जीतते ही राग कश्मीर

पाक के भावी पीएम इमरान खान ने पहले ही बयान में जाहिर किए इरादे

इस्लामाबाद— पाकिस्तान में सबसे बड़े दल के रूप में उभरी पाकिस्तान तहरीक-ए-इनसाफ के प्रमुख इमरान खान ने अपने पहले बयान में कश्मीर का मसला उठाते हए इसे दोनों देशों की बीच संबंधों का अहम मुद्दा करार दिया है। वहीं, उन्होंने मानवाधिकार उल्लंघन के आरोपों के साथ-साथ वार्ता और दोस्ती की बात की। पाकिस्तान के भावी प्रधानमंत्री इमरान खान ने गुरुवार को कहा कि वह पड़ोसी देशों के साथ अच्छे संबंधों के हिमायती है। उन्होंने कहा कि वह भारत के साथ अच्छे संबंध रखना चाहते हैं और आपसी समस्याओं को बातचीत से हल करने के पक्षधर है। उन्होंने कहा कि कश्मीर दोनों देशों के बीच अहम मुद्दा है। क्रिकेटर से राजनेता बने श्री खान ने जहां कश्मीर समस्या बातचीत से हल करने की बात की, वहीं उन्होंने पाकिस्तान के अन्य नेताओं की तरह कश्मीर में मानवाधिकारों का उल्लंघन होने का आरोप भी मढ़ दिया। उन्होंने कहा कि कश्मीर में जो कुछ हो रहा है, उसके लिए पाकिस्तान को दोषी ठहराया जाता है, इसी तरह ब्लूचिस्तान में जो कुछ होता है, उसके लिए पाकिस्तान भारत को दोषी ठहराता है। इमरान ने कहा कि एक-दूसरे पर आरोप प्रत्यारोप का यह सिलसिला बंद होना चाहिए और दोनों देश बातचीत से आपसी मसलों को हल करें। उन्होंने कहा कि भारत यदि एक कदम बढ़ाता है, तो वह दो कदम बढ़ाने को तैयार हैं। इमरान खान ने कहा कि भारत-पाकिस्तान के बीच अच्छे संबंध इस उप महाद्वीप के हित में हैं। वहीं, इमरान खान ने नाराजगी जताते हुए कहा कि भारत की मीडिया में मुझे ऐसे पेश किया जा रहा है, जैसे मैं बालीवुड फिल्मों का कोई विलेन हूं। मैं वह पाकिस्तानी हूं, जो क्रिकेट की वजह से भारत के ज्यादातर लोगों को जानता है। उन्होंने कहा कि अब मुझे मौका मिला है कि मैं वह काम करूं, जो मैं 22 साल पहले करने निकला था। उन्होंने बताया कि मैं पॉलिटिक्स में इसलिए आया था, क्योंकि यह मुल्क ऊपर जाते समय नीचे आने लगा था। मैं चाहता था कि पाक ऐसा मुल्क बने जैसा हमारे लीडर मोहम्मद अली जिन्ना ने सोचा था।

आतंकवाद के मुद्दे पर काट गए कन्नी

इमरान खान ने भले ही भारत के साथ संबंधों को सुधारने की बड़ी-बड़ी बातें की हों, पर असल मुद्दे आतंकवाद से वह कन्नी काट गए। उन्होंने अपने देश को लेकर बस इतना कहा कि चुनाव के दौरान हमले हुए और लोगों ने इसके लिए कुर्बानियां दी हैं।

You might also like