टीसीएस के दम पर चढ़ा बाजार

मुंबई— अमरीका-चीन के बीच टैरिफ को लेकर छिड़ी जंग के कारण विदेशी बाजारों के गिरावट में रहने के बावजूद सॉफ्टवेयर क्षेत्र की देश की अग्रणी कंपनी टाटा कंस्लटेंसी सर्विसेस (टीसीएस) के बेहतरीन तिमाही परिणाम ने घरेलू शेयर बाजारों की बढ़त बुधवार को लगातार चौथे दिन बनाए रखी। दिन भर के उतार-चढ़ाव भरे कारोबार के बीच आईटी और टेक समूहों में हुई लिवाली के दम पर बीएसई का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 26.31 अंक की बढ़त में साढ़े पाँच महीने के उच्चतम स्तर 36265.93 अंक पर और एनएसई का निफ्टी 1.05 अंक की मामूली तेजी के साथ 10948.30 अंक पर बंद हुआ। मंगलवार को कारोबार की समाप्ति के बाद टीसीएस ने चालू वित्त वर्ष की पहली तिमाही के परिणाम जारी किए, जिसके मुताबिक इस अवधि में उसका शुद्ध लाभ  23.73 फीसदी बढ़कर 7362 करोड़ रुपए हो गया। इससे पिछले वित्त वर्ष की समान तिमाही में उसने 5950 करोड़ रुपए का मुनाफा अर्जित किया था। टीसीएस बुधवार को दोनों प्रमुख शेयर बाजारों की सबसे कमाऊ कंपनी रही। बीएसई में कंपनी के शेयरों में 5.47 प्रतिशत की तेजी देखी गई। सेंसेक्स 59.64 अंक की तेजी के साथ 36299.29 अंक पर खुला। विदेशी बाजारों से मिले कमजोर संकेतों के कारण इसने 36169.70 अंक के दिवस के निचले स्तर तक गोता लगाया, लेकिन अंतिम घंटे में हुई लिवाली से 36362.30 अंक के दिवस के उच्चतम स्तर को छूता हुआ यह मंगलवार की तुलना में 0.07 प्रतिशत की तेजी बनाता हुआ 36265.93 अंक पर बंद हुआ। यह 29 जनवरी के बाद का इसका उच्चतम बंद स्तर है। सेंसेक्स की 10 कंपनियां हरे निशान में रहीं, जबकि शेष 20 लाल निशान में बंद हुईं।

You might also like