टौणीदेवी में शराब के ठेके का विरोध

महिलाओं ने दी चेतावनी, ठेका खोलने का प्रयास किया तो करेंगी आंदोलन

हमीरपुर  – टौणीदेवी में शराब का ठेका मक्की के खेतों में खोलने पर ग्रामीणों ने इसका विरोध जताया है। महिलाओं ने चेतावनी दी है कि यहां पर ठेका खोलने का प्रयास किया, तो ग्रामीण आंदोलन करने से भी पीछे नहीं हटेंगे। शुक्रवार को महिलाएं अतिरिक्त उपायुक्त एवं सहायक आयुक्त आबकारी एवं काराधान से मिली और ठेका बंद करने का आग्रह किया। टौणीदेवी से बीडीसी सदस्य प्रेम लता ठाकुर, छत्रैल की वार्ड सदस्य ललिता देवी, सीमा, सावित्री, श्रेष्ठा, दीपा देवी, सिमरो, कांता, आशा, मीरा, अंजना, पानो, भावना, लीला, प्रकाशां, आशा, कामनी, निशा देवी, कमला, पिंकी सहित ने विरोध किया। इससे दो सप्ताह पहले भी महिलाएं ठेके का विरोध कर चुकी हैं। उस दौरान भी टौणीदेवी में तहसीलदार व पुलिस चौकी प्रभारी टौणीदेवी ज्ञान चंद को भी ज्ञापन सौंपा जा चुका है, लेकिन इसके बावजूद फिर शुक्रवार को ठेका खोलने का प्रयास किया गया तथा आबकारी एवं कराधान की बिना अनुमति के टीननुमा शेड में शराब बिक्री के लिए रख दी गई तथा इसकी बिक्री शुरू कर दी। इससे महिलाएं व ग्रामीण और भड़क गए। उन्होंने बताया कि टौणीदेवी बाजार में वर्षों तक ठेका रहा, लेकिन एनएच की परिधि के कारण इसे हटा दिया गया। टौणीदेवी में ठेके का कभी विरोध नहीं हुआ, लेकिन खेतों में ठेका कतई बर्दास्त नहीं है। महिलाएं अकेले भी कई बार खेतों में काम करने जाती हैं, लेकिन सुनसान क्षेत्र होने के कारण कोई घटना हो सकती है। यहां से कुछ ही दूरी पर तहसीलदार, बीडीओ, बागबानी व कृषि के साथ ही अन्य कार्यालय हैं। उनकी सुरक्षा भी खतरे में पड़ सकती है। वहीं, अतिरिक्त उपायुक्त का कहना है कि ग्रामीणों ने ज्ञापन सौंपा है तथा इसके ऊपर उचित कार्रवाई की जाएगी। वहीं, सहायक आयुक्त का कहना है कि टौणीदेवी में अभी तक शराब ठेका खोलने की अनुमति दी है तथा शराब बेचने का पास जारी नहीं किया है। ग्रामीण खेतों में ठेका नहीं खोलने देना चाहते, तो इस पर उचित कार्रवाई की जाएगी।

You might also like