डोगरा स्काउट की माउंटनेयरिंग टीम ने फतह की पापसुरा चोटी

कुल्लू — कुल्लू जिला की 6440 मीटर ऊंची पापसुरा चोटी पहली बार भारतीय सेना की डोगरा स्काउट की माउंटनेयरिंग टीम ने पहली बार फतह की है। इससे पहले यह चोटी फतह करने का हालांकि कई दलों ने प्रयास किया, लेकिन सफल नहीं हो पाए, लेकिन डोगरा स्काउट की लाहुल-स्पीति के समदो स्थित तैनात जवानों ने यह चोटी दस दिन के भीतर फतह कर दी है। खतरनाक पगडंडियों और बर्फ से ढकी पीक फतह करने के लिए इस दल को काफी चुनौतियों के दौर से गुजरना पड़ा, लेकिन दल को आखिर में चोटी फतह करने में कामयाबी हासिल हुई है। 24 सदस्यों वाले इस दल में पांच एवरेस्टर शामिल थे और अनुभवी टीम के सदस्यों ने चोटी सफलतापूर्वक फतह की। दल का नेतृत्व मेजर पंकज गौड ने किया, जिसमें पांच जेसीओएस और 18 अन्य जवान शामिल थे, जिन्होंने यह चोटी फतह करने में सफलता हासिल की है। इस दल को ब्रिगेडियर एलएस लीडर, सेना मेडल कमांडर 136 इंडिपेंडेंट इनफैंटरी ब्रिगेड समूह समदो ने झंडी दिखाकर रवाना किया था, जिसके चलते टीम किन्नौर के पुह होते हुए छोटा दड़ा, बड़ा दड़ा, मनाली होते हुए शुरू किया था और उसके बाद इस पीक की ओर बढे़ थे। यह चोटी फतह करने का प्रयास न्यूजीलैंड के एक दल ने किया था, लेकिन वह आज तक लौटकर नहीं आया। वेस्ट बंगाल के एक दल ने भी प्रयास किया, लेकिन एक महिला की मौत हो गई थी।

 

You might also like