थर्माकोल में न परोसे जाएं लंगर

चामुंडा मंदिर में श्रावण-अष्टमी नवरात्र की व्यवस्थाओं के जायजे बाद डीसी ने मंदिर अधिकारी को दिए आदेश 

श्रीचामुंडा —श्री चामुंडा नंदिकेश्वर धाम में गुरुवार को जिलाधीश एवं मंदिर आयुक्त संदीप कुमार ने श्रावण-अष्टमी नवरात्र की व्यवस्थाओं का जायजा लिया। इसके साथ ही मंदिर परिसर में चल रहे निर्माण कार्यों का भी निरीक्षण किया। उन्होंने मंदिर अधिकारी व कनिष्ठ अभियंता को श्रावण-अष्टमी नवरात्र में लगने वाले लंगरों में थर्माकोल व एल्मूनियम के सामान का उपयोग न करने के आदेश दिए, ताकि मंदिर परिसर में साफ-सफाई की व्यवस्था बनी रहे। वहीं मंदिर परिसर के रास्तों में जगह-जगह बने गड्ढों की मरम्मत व भरने के आदेश दिए। वहीं खादी ग्रामो उद्योग के दुकानदारों को आ रही समस्याओं को शीघ्र ही हल करने का आश्वासन दिया। वहीं जिलाधीश ने शापिंग माल के बाहर दुकानदारों द्वारा रास्ते में सजाए सामान को शीघ्र हटाने के आदेश दिए। अगर दुकानदारों द्वारा उनके आदेशों का पालन नहीं किया तो उचित कार्रवाई की जाएगी। जिलाधीश ने बताया कि नवरात्र के दौरान वृद्ध श्रद्धालुओं  के लिए मंदिर के मुख्य द्वार से मंदिर परिसर तक वाहन, व्हील चेयर व स्टे्रचर की व्यवस्था मुहैया करवाई जाएगी। वहीं ‘दिव्य हिमाचल’ द्वारा श्रावण अष्टमी नवरात्र में बाहरी राज्यों से भारी तादाद में आने वाले श्रद्धालुओं के रात्रि ठहराव के बारे में पूछा तो जिलाधीश ने कहा कि मंदिर परिसर में विकासात्मक कार्यों के चलते थोड़ी परेशानी झेलनी पड़ेगी,लेकिन एक वर्ष के बाद मंदिर की सरायों का निर्माण कर दिया जाएगा।श्रद्धालु अन्य प्राइवेट सरायों में ठहराव कर सकते हैं। इस मौके पर एसडीएम एवं मंदिर सहायक आयुक्त धर्मेश रमोत्रा, मंदिर तहसीलदार सुमन धीमान, मंदिर कनिष्ठ अभियंता जितेंद्र शर्मा मौजूद रहे।

You might also like