नैना देवी में पुलिस शूटआउट में एक बदमाश ढेर। पंजाब और हिमाचल पुलिस की कारवाई में पंजाब से भागे बदमाशों में से दो को किया गिरफ्तार।

बिलासपुर के विश्व विख्यात शक्तिपीठ श्री नैना देवी मंदिर में उस समय दहशत का माहौल बरकरार हो गया जब शनिवार सुबह-सुबह पंजाब पुलिस और गैंगस्टरों के बीच फायरिंग शुरू हो गई। इस दौरान  एक गैंगस्टर की मौत हो गई, जबकि 2 गैंगस्टरों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। जानकारी के अनुसार बदमाश गाड़ी लेकर लेकर श्री नैना देवी की तरफ आ रहे थे। इस दौरान पुलिस ने उन्हें पकड़ने की कोशिश में हाथापाई के अलावा फायरिंग की। इस कार्रवाई के कारण श्री नैना देवी के बस अड्डे का मुख्य मार्ग पुलिस ने बंद कर दिया है। श्रद्धालुओं को  काफी दिक्कतों का सामना भी करना पड़ रहा है। पूरी तरह से दहशत का माहौल बरकरार है।

पुलिस छावनी में तब्दील हुआ  बस अड्डा

पंजाब और हिमाचल पुलिस ने पूरी तरह से बस अड्डा को छावनी के रूप में तब्दील कर दिया है। मौके पर पहुंचे एसएसपी मोहाली कुलदीप सिंह चहल ने बताया कि यह बदमाश मोहाली से रात को गाड़ी छीन कर यहां पहुंचे थे। इन बदमाशों के खिलाफ सुहाना थाने में आर्म्स एक्ट के अंतर्गत स्नेचिंग और जान से मारने के केस दर्ज हैं। इन बदमाशों में से सन्नी सनी मसीह की मौत हो गई है, जबकि गोल्डी और अमन को  गिरफ्तार कर लिया गया है।

You might also like