परमवीर संजय-अमोल-कालिया पर फख्र

बिलासपुर –26 जुलाई। कारगिल विजय दिवस के उपलक्ष्य में गुरूवार को बिलासपुर में आयोजित राज्यस्तरीय समारोह में मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने अपने आधे घंटे के भाषण में शहीदों की कुर्बानियों को याद किया। साथ ही परमवीर चक्र विजेता संजय कुमार के अलावा अमोल कालिया और विक्टोरिया क्रॉस वीरभंडारी राम सहित कारगिल शहीदों की बहादुरी पर फख्र करते हुए उनकी देशभक्ति की प्रेरणा लेने का आह्वान भी किया। गुरुवार को सुबह से ही मौसम खराब हो गया और मूसलाधार बारिश शुरू हुई जिस कारण तय शेड्यूल के तहत 11 बजे मुख्यमंत्री हेलिकाप्टर के जरिए बिलासपुर में आयोजित राज्य स्तरीय समारोह में दो घंटे देरी से पहुंच पाए। बारिश के दौरान ही उन्होंने शहीद स्मारक का भूमि पूजन कर विधिवत ढंग से निर्माण कार्य शुरू करवाया, जबकि 40 लाख लागत से निर्मित होने वाले राज्य विद्युत बोर्ड सीमित के उपमंडल कार्यालय भवन का शिलान्यास किया। इस कार्यालय से क्षेत्र की आठ पंचायतों की 60 हजार से अधिक आबादी लाभान्वित होगी। इससे पूर्व मुख्यमंत्री ने कारगिल विजय दिवस के अवसर पर शहीदों को पुष्पांजलि अर्पित की। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कुशल नेतृत्व में आज देश सुरक्षित हैं। उन्होंने कहा कि मोदी को आज उनकी लोकप्रियता के कारण विश्व में एक बड़े विश्वनेता की संज्ञा दी जा रही है। मंच से ही उन्होंने घोषणा की कि शहीदी स्मारक के निर्माण के लिए प्रत्येक मंत्री द्वारा 11 हजार रुपए और भाजपा के प्रत्येक विधायक द्वारा 5100 रुपए का अंशदान किया जाएगा। इस मौके पर मुख्यमंत्री ने बिलासपुर जिले के परमवीर चक्र विजेता संजय कुमार तथा अन्य कारगिल शहीदों के परिजनों को सम्मानित किया।

योगदान की अपील

एक ईंट शहीदों के नाम अभियान के संयोजक संजीव राणा ने मुख्यमंत्री का स्वागत किया और उन्हें शहीद स्मारक के बारे में अवगत करवाया। उन्होंने लोगों से एक ईंट शहीदों के नाम के लिए उदारतापूर्वक योगदान करने की अपील की ताकि देश के शहीदों को श्रद्धांजलि दी जा सके।

इन्होंने रखे अपने विचार

पार्टी के प्रदेश मुख्य प्रवक्ता रणधीर शर्मा, विधायक सुभाष ठाकुर, जेआर कटवाल तथा राजेंद्र गर्ग ने अपने अपने विचार रखे। जिलाध्यक्ष राकेश गौतम और मंडल अध्यक्ष कुलदीप ठाकुर ने आभार जताया।

 

You might also like