भूमि घोटाले में कैप्टन समेत 15 आरोपी बरी

 मोहाली— पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरेंदर सिंह सहित पंद्रह आरोपियों को मोहाली की अदालत ने शुक्रवार को दस साल पुराने अमृतसर सुधार न्यास भूमि घोटाला मामले में  बरी कर दिया। अदालत ने पंजाब विजलेंस ब्यूरो की ओर से दाखिल की गई केंसीलेशन रिपोर्ट को भी स्वीकार कर लिया। अकाली-भाजपा गठबंधन सरकार के दौरान 2008 में कैप्टन सहित कुल 18 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया था, जिनमें से तीन की मौत हो चुकी है। कैप्टन अमरेंदर शुक्रवार को इस केस में अदालत में पेश हुए और अदालत के फैसला सुनाए जाने के बाद उन्होंने कहा कि एक दशक बाद उन्हें अंततः न्याय मिल गया। उनकी न्यायपालिका में हमेशा आस्था रही है और न्याय मिलने की उम्मीद थी। इस घोटाला मामले में लगाए गए आरोप राजनीति से प्रेरित थे। उन्होंने अदालत परिसर में पत्रकारों से कहा कि स्वस्थ लोकतंत्र में राजनीतिक बदले की भावना जैसी चीजों के लिए कोई स्थान नहीं है।   इसमें मेरी कोई भूमिका नहीं है।

You might also like