यूएस-चीन की लड़ाई में भारत को मलाई

अमरीका तेजी से बढ़ा रहा कारोबार

वाशिंगटन — चीन से ट्रेड वॉर के चलते ट्रंप प्रशासन भारत से व्यापार से बढ़ाने में जुटा है। इस बारे में अमरीका के एक प्रमुख सांसद रॉब पोर्टमैन ने बताया कि अमरीका का भारत के साथ व्यापार चीन-अमरीका व्यापार की तुलना में दोगुनी तेजी से बढ़ रहा है। पोर्टमैन के अनुसार भारत अमरीका के व्यापार में यह तेज वृद्धि इस द्विपक्षीय रिश्ते में मजबूती का बड़ा संदेश है। पोर्टमैन ने व्यापार और तटकर बाधाओं को हटाने का आह्वान किया, जो उनकी नजर में द्विपक्षीय व्यापार वृद्धि में बाधा है। उन्होंने कहा कि दोनों देशों के बीच व्यापार में 370 फीसदी बढ़ोतरी दिखाता है और यह आगे जारी रहेगी।

चीन भारतीय कंपनियों मेहरबान

नई दिल्ली — चीन भारत के दवा निर्माताओं को नियामक मंजूरी देने जा रहा है। इंडियन एक्सपोर्ट प्रोमोशन ग्रुप के प्रमुख का कहना है कि अमरीका से चल रहे व्यापार युद्ध की वजह से चीन नए व्यापारिक सहयोगियों की तलाश में है। चीन के साथ व्यापार को बढ़ाने के प्रयास में शामिल एक सरकारी अधिकारी ने बताया कि हमें लगता है कि चीन इस समय शर्तों को स्वीकार करने की स्थिति में है और वह कीमतों को भी प्रतिस्पर्धी बनाएगा।

ईरान नहीं होने देगा तेल की कमी

नई दिल्ली — कच्चे तेल की पूर्ति भारत के लिए बड़ी चुनौती बन चुकी है। जहां एक ओर कच्चे तेल के बढ़ते दाम को लेकर जनता चिंतित है, वहीं दूसरी ओर सरकार के लिए तेल की पूर्ति चिंता का विषय है, ऐसे में भारत के कारोबारी मित्र ईरान ने भारत से अपनी दोस्ती निभाते हुए देश में तेल की कमी नहीं होने देने का आश्वासन दिया है। ईरान ने कहा कि वह भारत को तेल आपूर्ति सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए अपना सर्वश्रेष्ठ करेगा।

You might also like