लाहुल में बादलों के बरसने का दौर 

 केलांग —केलांग में बुधवार रात से ही बादलों के बरसने का दौर शुरू हो गया है। बारिश के चलते लाहुल के तापमान में भी भारी गिरावट दर्ज की गई है। यही नहीं, बारलाचा दर्रा पर जहां बर्फ के फाहे गिरे हैं, वहीं लाहुल की चोटियों पर हल्ला हिमपात भी दर्ज किया गया है। खराब मौसम के बीच मनाली लेह मार्ग पर सफर करना भी जोखिम भरा हो गया है। यहां कभी भी भू-स्खलन होने का खतरा बना हुआ है।  मौसम विभाग की मानें ने आगामी कुछ दिनों तक लाहुल घाटी में मौसम खराब ही बना रहेगा। मौसम के खराब होने से कबायलियों की दिक्कतें भी बढ़ गई हैं। घाटी के नदी नाले उफान पर बह रहे हैं। यही नहीं, हाल ही में उदयपुर के समीप बादल फटने की घटना ने लोगों को डरा कर रख दिया है और लाहुल में बारिश का दौर शुरू होते ही लोगों ने खुद ही नदी-नालों से दूरियां बना ली हैं। ऐसे में प्रशासन ने भी खराब मौसम को ध्यान में रख क्षेत्र में अलर्ट जारी किया है। प्रशासन का कहना है कि लाहुल के कुछ क्षेत्रों में बारिश के दौरान पहाडि़यों से पत्थर गिरने का खतरा बना हुआ है और कुछ स्थलों पर भू-स्खलन का खतरा। ऐसे में लोगों से अपील की जाती है कि वे बारिश के दौरान ऐसी जगहों पर न जाएं जहां पर भू-स्खलन व पत्थरों के गिरने की संभावना हो। गुरुवार को लाहुल में रूक-रूककर बारिश का दौर चलता रहा। केलांग में बारिश होने से जहां तापमान में भारी गिरावट दर्ज की गई है, वहीं लोगों का कहना है कि मौसम में आए बदलाव से लाहुल में सुबह-शाम ठंड बढ़ गई है। यही नहीं, यहां पहुंचे सैलानी भी इस मौसम का जमकर आनंद उठा रहे हैं और केलांग की खूबसूरत वादियों में घूम रहे हैं। हालांकि गुरुवार को बारिश होने के कारण अधिकतर सैलानी होटलों में ही रहे और यहां के ठंडे मौसम का लुत्फ उठाते रहे। स्थानीय लोगों का कहना है कि मौसम में आए बदलाव से बुधवार रात से ही घाटी में बारिश का दौर जारी है। घाटी की चोटियों पर हल्के हिमापात को भी दर्ज किया गया है,वहीं लोगों ने गर्म वस्त्रों को भी पहनना शुरू कर दिया है। एसडीएम केलांग अमर नेगी का कहना है कि खराब मौसम को देखते हुए प्रशासन ने अलर्ट जारी कर दिया है।

You might also like