सड़क मार्गों को जोड़ने के काम में तेजी लाएं अधिकारी

देहरादून— मुख्य सचिव उत्पल कुमार सिंह ने जिलाधिकारियों को प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना (पीएमजीएसवाई) की सड़कों के लिए डी-ग्रेडेड फोरेस्ट लैंड चिंहित करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि भूमि प्रत्यावर्तन के लंबित मामलों का जल्द से जल्द निस्तारण करें। पीएमजीएसवाई में डी-ग्रेडेड फारेस्ट भूमि का इस्तेमाल किया जा सकता है, इसलिए इस कार्य के लिए सिविल या अन्य भूमि का चयन न किया जाए। जिस वन भूमि पर पेड़ों की कमी हो रही है, वहां पर वनीकरण का कार्य किया जाएगा। मुख्य सचिव सचिवालय में पीएमजीएसवाई के प्रगति की समीक्षा कर रहे थे। मुख्य सचिव ने वीडियो कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से सभी जिलाधिकारियों को निर्देश दिए कि गांव को सड़क मार्ग से जोड़ने के कार्य में तेजी लाई जाए। उन्होंने बैठक में बताया कि 453 किलोमीटर सड़कों का निर्माण पीएमजीएसवाई के अंतर्गत किया जाना है। इसके लिए 700 हेक्टेयर डी-ग्रेडेड वन भूमि की जरूरत है। गढ़वाल मंडल में 31 और कुमाऊं मंडल में 23 सड़कें स्वीकृत हुई हैं।  इस बैठक में कई अधिकारी भी मौजूद रहे।

You might also like