स्विट्जरलैंड जाएगी डेंगू की रिपोर्ट

पुड्डुचेरी के वैज्ञानिक डब्ल्यूएचओ को देंगे बिलासपुर में फैले वायरस की जानकारी

बिलासपुर — वर्ल्ड हैल्थ आर्गेनाइजेशन स्विट्जरलैंड  को बिलासपुर में फैले डेंगू वायरस की रिपोर्ट भेजी जाएगी। यह रिपोर्ट कुछ दिनों के भीतर वैज्ञानिकों द्वारा स्विट्जरलैंड के  जेनेवा में भेजी जाएगी, ताकि बिलासपुर में फैले डेंगू पर विश्व स्तर के वैज्ञानिक भी शोध करें। इस बात का खुलासा दो दिन के दौरे पर बिलासपुर पहुंचे विक्टर कंट्रोल रिसर्च सेंटर के डिप्टी डायरेक्टर डा. श्री निवासन ने किया। उन्होंने बताया कि बिलासपुर में फैले डेंगू के वायरस के कुछ लारवे को उन्होंने रिसर्च के आधार पर लिया है। जिसकी रिपोर्ट वह जल्द ही वर्ल्ड हैल्थ आर्गेनाइजेशन को सौंपने जा रहे हैं, ताकि विश्व स्तर पर इसकी जांच जारी रहे। उन्होंने बताया कि इससे पहले वह इसकी साक्ष्य केरल और उड़ीसा भी भेंजेंगे। इसके बाद यह सारी रिपोर्ट वर्ल्ड हैल्थ आर्गेनाइजेशन स्विट्जरलैंड भेजी जाएगी। क्योंकि देश में किसी भी तरह का अगर वायरस फैलता है तो इसकी रिपोर्ट वर्ल्ड हैल्थ आर्गेनाइजेशन को सौंपी जाती है। इसी आधार पर बिलासपुर में फैले डेंगू की रिपोर्ट भी यहां पर भेजी जाएगी।  बता दें कि बिलासपुर क्षेत्र हिमाचल प्रदेश का एक ऐसा जिला बन गया है, जहां पर सबसे ज्यादा डेंगू से प्रभावित मामले सामने आ रहे हैं। इससे पहले यह मामले प्रदेश के सिर्फ सोलन क्षेत्र में ही थे। लेकिन बिलासपुर में मामले लगातार बढ़ने के चलते केंद्र से लेकर प्रदेश के वैज्ञानिकों ने यहां का दौरा किया है। इस दौरान इन वैज्ञानिकों ने पाया है कि यहां पर मच्छर तो समाप्त कर दिए जा रहे हैं, लेकिन मच्छर से पैदा होने वाला लारवा भारी मात्रा में पाया जा रहा है, जिस कारण यह वायरस रुकने की बजाय बढ़ता जा रहा है। उन्होंने इसकी रिपोर्ट जिला स्वास्थ्य विभाग को दी है, जिसमें यह जाहिर किया है कि इस वार्ड में डेंगू का वायरस बहुत ही हाई ग्रेड में है। अगर समय रहते इस पर कंट्रोल नहीं किया गया तो आने वाले भविष्य में इसके लिए अच्छे संकेत नहीं है।

You might also like