श्रीनगर में एक जवान शहीद, पांच जख्मी

बटमालू मुठभेड़ में सेना ने आतंकियों के दो सहयोगी किए गिरफ्तार

श्रीनगर – जम्मू-कश्मीर की राजधानी श्रीनगर के बटमालू में रविवार सुबह सेना और आतंकवादियों के बीच मुठभेड़ में राज्य पुलिस के विशेष अभियान समूह (एसओजी) का एक जवान शहीद हो गया और एक नागरिक समेत सुरक्षा बल के चार जवान घायल हो गए। सेना ने आतंकवादी ठिकाने का भंडाफोड़ करके आतंकवादियों के दो सहयोगियों को गिरफ्तार किया है। पुलिस महानिदेशक एसपी वैद्य ने बताया कि आतंकवादियों के छिपे होने की खुफिया सूचना के आधार पर पुलिस के विशेष अभियान समूह, सेना और सीआरपीएफ ने  मिलकर शनिवार रात श्रीनगर के बटमालू में संयुक्त तलाशी अभियान शुरू किया था। सुरक्षा बलों ने आतंकवादियों के छिपे होने की सूचना मिलने पर एक घर की घेराबंदी शुरू की तो वहां छिपे आतंकवादियों ने स्वचालित हथियारों से गोलीबारी शुरू कर दी। इसके बाद सुरक्षा बलों ने जवाबी गोलीबारी शुरू कर दी और मुठभेड़ शुरू हो गई। इस गोलीबारी में पुलिस के एसओजी का एक जवान शहीद हो गया और एक पुलिसकर्मी और सीआरपीएफ के तीन जवान घायल हो गए। शहीद जवान की  पहचान  सेलेक्शन ग्रेड कांस्टेबल परवेज अहमद के रूप में हुई है, जबकि घायल नागरिक की पहचान नियाज अहमद के रूप में हुई है। घायलों को तुरंत उपचार के लिए नजदीकी अस्पताल में ले जाया गया। आतंकवादी अंधेरे का फायदा उठाकर वहां से भाग निकले। क्षेत्र में सुरक्षा बलों का आतंकवादियों को पकड़ने के लिए तलाशी अभियान खबर लिखे जाने तक जारी था। पुलिस महानिरीक्षक वीके बिदरी ने पत्रकारों को बताया कि सेना ने आतंकी ठिकाने का भंडाफोड़ करके आतंकवादियों के दो सहयोगियों को गिरफ्तार किया है। उन्होंने बताया कि मुठभेड़ के दौरान एक आतंकवादी घायल हो गया था, लेकिन आतंकी अंधेरे का फायदा उठाकर भाग निकलने में कामयाब रहे। पूरे क्षेत्र की घेराबंदी करके आतंकवादियों को पकड़ने के लिए व्यापक तलाशी अभियान चलाया जा रहा है। उधर, जम्मू-कश्मीर के बड़गाम जिला के तोसा मैदान में रविवार को संदिग्ध पदार्थ से हुए विस्फोट से तीन लोग घायल हुए, जिसमें से एक की हालत गंभीर है। आधिकारिक सूत्रों के अनुसार यह विस्फोट ऐसे पदार्थ से हुआ है, जिसका उपयोग पहले सेना के अधिकारियों द्वारा फायरिंग रेंज में किया जाता है। घायलों को तत्काल प्राथमिक चिकित्सा केंद्र में भर्ती कराया गया, जहां एक की हालत गंभीर बनी हुई है। पुलिस ने मामला दर्ज कर विस्फोट के कारणों की जांच शुरू कर दी है।

You might also like