सात मिनट की ताजपोशी, 42 लाख, खर्च

कुमारस्वामी के शपथ ग्रहण समारोह में पहुंचे नायडु पर उड़ाए 8.72 लाख

बंगलूर— कर्नाटक में कांग्रेस के साथ मिलकर गठबंधन की सरकार बनाने वाले जनता दल (सेक्युलर) नेता एचडी कुमारस्वामी के शपथग्रहण समारोह में शिरकत करने वाले नेताओं के खर्च के बारे में सुनकर किसी के भी पैरों तले से जमीन खिसक सकती है। एक दिन के कार्यक्रम के लिए ‘जनता के सेवकों’ ने लाखों रुपए खर्च कर डाले। यहां तक कि ‘आम आदमी’ अरविंद केजरीवाल का बिल 1.85 लाख रुपए पहुंच गया। यह खुलासा एक आरटीआई के तहत हुआ है। रिपोर्ट्स से पता चला है कि कर्नाटक सरकार ने 42 लाख रुपए सात मिनट के शपथ ग्रहण समारोह पर खर्च किए थे। दस्तावेजों के मुताबिक इससे पहले 13 मई, 2013 को सिद्धारमैया और 17 मई, 2018 को बीएस येदियुरप्पा के शपथ ग्रहण के दौरान सरकार के हास्पिटैलिटी संगठन ने मेहमानों के रुकने का खर्च नहीं उठाया था। कुमारस्वामी के शपथ ग्रहण में 42 बड़े नेताओं को आमंत्रित किया गया था। सबसे ज्यादा खर्च 8,72,485 रुपए आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू पर किया गया। मेहमानों के ऊपर इस तरह खर्च किए जाने को लेकर राज्य सरकार की पूर्व लोकायुक्त जस्टिस संतोष हेगड़े ने तीखी आलोचना की है। उन्होंने कहा कि सरकार को ऐसी बर्बादी की इजाजत नहीं देनी चाहिए थे। उन्होंने कहा कि सरकार कहती है कि विकास कार्यों के लिए उसके पास पैसे नहीं हैं। यह राजनीतिक दल की जिम्मेदारी है कि वह खर्च उठाए।

You might also like