हरिवंश चुने राज्यसभा के उपसभापति

यूपीए के उम्मीदवार हरिप्रसाद को 20 वोटों से दी मात

नई दिल्ली— राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) के उम्मीदवार हरिवंश को गुरुवार को राज्यसभा का उपसभापति चुन लिया गया। उनके पक्ष में 125 सदस्यों ने मतदान किया, जबकि विरोध में 105 मत पड़े। जनता दल यू के बिहार से सदस्य हरिवंश के खिलाफ विपक्ष ने कांग्रेस के बीके हरिप्रसाद को अपना उम्मीदवार बनाया था। समाजवादी पार्टी की जया बच्चन, कांग्रेस की विप्लव ठाकुर और द्रमुक की कनिमोझी सहित कुछ अन्य सदस्य मतदान के दौरान सदन में मौजूद नहीं थे। इसके अलावा आम आदमी पार्टी, पीपल्स डेमोक्रेटिक फ्रंट तथा वाईएसआर कांग्रेस पार्टी ने मतदान में हिस्सा नहीं लिया। दूसरी ओर बीजू जनता दल, तेलंगाना राष्ट्र समिति और शिव सेना तथा असंबद्ध सदस्य अमर सिंह ने हरिवंश के पक्ष में मतदान किया। पीजे कुरियन का जुलाई में कार्यकाल समाप्त होने के बाद से राज्यसभा के उपसभापति का पद रिक्त था। निर्वाचन प्रक्रिया पूरी होने के बाद बैंककर्मी से पत्रकार और पत्रकार से सांसद बने हरिवंश का प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, सभापति एम वेंकैया नायडू, सदन के नेता अरुण जेटली, विपक्ष  के नेता गुलाम नबी आजाद समेत सदन में सभी दलों के नेताओं ने गर्मजोशी से स्वागत किया और उन्हें एक जनपक्षधर पत्रकार, परिपक्व सांसद, शालीन एवं  गरिमामय व्यक्ति तथा हिंदी प्रेमी बताया।

मोदी बोले, सदन में अब सब हरि भरोसे

भाषण की अपनी खास शैली के लिए मशहूर प्रधानमंत्री ने कहा कि अब सदन का मंत्र बन जाएगा हरिकृपा। अब सब कुछ हरि भरोसे। हमें विश्वास है कि सभी सांसदों पर हरिकृपा बनी रहेगी। इस चुनाव में दोनों तरफ हरि थे। मैं बीके हरिप्रसाद जी को भी लोकतंत्र की गरिमा के सम्मान के लिए बधाई देना चाहूंगा।

You might also like