हिमाचल कांग्रेस में कोई गुटबाजी नहीं

चंबा— प्रदेश कांग्रेस प्रभारी रजनी पाटिल ने कहा है कि हिमाचल कांग्रेस में कोई गुटबाजी नहीं है। उन्होने कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह पार्टी के सशक्त सिपाही है, जिनकी अगवाई में कांग्रेस प्रदेश में कई बार सत्ता में आ चुकी है। उन्होंने कहा कि इस बार भी लोकसभा चुनावों में भी वीरभद्र सिंह पार्टी की जीत को सुनिश्चित करने के लिए अहम भूमिका निभाएंगे। वह गुरूवार को जिला मुख्यालय में आयोजित कांग्रेस कार्यकर्ता सम्मेलन में बतौर मुख्यातिथि बोल रही थी। उन्होंने केंद्र सरकार पर तंज कसते हुए कहा कि देश की जनता को अच्छे दिनों को झुनझुना थमाकर सत्ता पर काबिज होने वाली मोदी सरकार साढे चार वर्षो में विदेशों से काले धन को वापिस ला पाई है। और न ही हर वर्ष दो करोड युवाओं को रोजगार देने के वायदे को पूरा कर पाई है। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार ने हर वर्ष दो करोड़ लोगों को रोजगार देने की बात कही थी, जबकि पिछले चार वर्षों में यह सरकार कुछ लाख लोगों को ही रोजगार दे पाई है। आज देश का किसान आत्महत्या करने पर मजबूर है, क्योंकि बैंक से लिया गया कर्ज अदा नहीं हो रहा है, जबकि देश के कई उद्योगपति करोड़ों रूपए का कर्ज लेकर सरकार की शह पर देश छोड़कर विदेश भाग चुके हैं। उन्होंने दावा किया कि संगठन ने जो दायित्व उन्हें सौंपा है उसे निभाते हुए वे प्रदेश की चारों सीटों पर कांग्रेस के प्रत्याशियों को विजय श्री के पथ पर लेकर जाएंगीं। उन्होंने आहवान कि आने वाले लोकसभा चुनावों में कांग्रेस पार्टी को पुन सत्ता में लाकर भाजपा को उसकी करनी की सजा देनी है। इससे पहले कांग्रेस के प्रदेशाध्यक्ष सुखविंद्र सुक्खू, आल इंडिया कांग्रेस कमेटी की सदस्य आशा कुमारी, प्रदेश कांग्रेस के सचिव नीरज नैय्यर, खन्ना के विधायक एवं कांग्रेस सह प्रभारी गुरकीरथ सिंह, पूर्व मंत्री एवं पूर्व सांसद चंद्र कुमार, पूर्व मंत्री मुकेश अग्निहोत्री, पूर्व मंत्री ठाकुर सिंह भरमौरी, कांग्रेस जिला अध्यक्ष कुलदीप सिंह पठानिया व पूर्व विधायक सुरेंद्र भारद्धाज ने भी कार्यकर्ताओं का मार्गदर्शन किया। इस मौके पर हज कमेटी के पूर्व चेयरमैन दिलदार अली बटट, जिला परिषद अध्यक्ष धर्म सिंह पठानियां समेत अन्य मौजूद रहे।

You might also like