Divya Himachal Logo Feb 27th, 2017

उत्‍सव


बच्चों को सिखाएं सेविंग के गुर

बच्चे भविष्य में बड़े होकर अपनी आय का अच्छे ढंग से प्रबंधन करें एवं सुखी जीवन जिएं, इस के लिए जरूरी है कि वे धन प्रबंधन बचपन से सीखें। बच्चों के अंदर धन प्रबंधन के प्रति संवेदना विकसित करने के लिए निम्न बिंदुओं के ऊपर चर्चा की जा सकती है। जैसे धन की बचत से भविष्य में होने वाले लाभ, धन की बचत के तरीके आदि। इतना अवश्य ध्यान रखें कि अलग-अलग उम्र के बच्चों की सोच और आवश्यकताएं अलग-अलग होती हैं और उन्हीं के अनुसार उन के अंदर धन प्रबंधन की आदत विकसित की जा सकती है। बच्चों को उनकी उम्र के आधार पर विभाजित करके उन में धन प्रबंधन की आदत विकसित की जा सकती है।

5 से 10 साल के बच्चे

इस उम्र के बच्चों में धन प्रबंधन की प्रवृत्ति पैदा करने हेतु इनके साथ ऐसे गेम्स खेलें, जिन में पैसे का प्रयोग प्रतीकात्मक रूप में हो। बच्चों का गेम्स में अच्छा करने का आधार यह हो कि वे अधिक से अधिक पैसे अर्जन करें और कम खर्च कर के अत्यधिक सामान खरीदें। आप बाजार से खरीददारी करके आएं, तो बच्चों को पैसे गिनने के लिए दे दें। इस से बच्चों को मुद्रा की इकाइयों की जानकारी प्राप्त होगी। यदि बच्चे कोई अच्छा काम करें, तो उन्हें पैसे से भी पुरस्कृत करें, लेकिन उन से यह भी कहें कि उन्हें पुरस्कार स्वरूप जितने पैसे मिलें उन्हें वे गिन कर गुल्लक में डालें तथा अपने बचाए गए पैसों का हिसाब एक नोटबुक में अवश्य रखें। इस उम्र के बच्चों के लिए एलआईसी जैसी बीमा कंपनियों के पास बचत की कुछ नीतियां भी हैं, जिनमें कम से कम 5,000 प्रतिवर्ष का प्रीमियम दे कर बच्चों का भविष्य सुरक्षित किया जा सकता है। इस की जानकारी बच्चों को जरूर कराएं ताकि उन्हें बचत से होने वाले फायदे का एहसास हो और बड़े हो कर बचत के महत्त्व को वे समझें।

10 से 15 साल के बच्चे

इस उम्र के बच्चे इस योग्य हो जाते हैं कि रुपए पैसे का लेखा जोखा रख सकें। संभव हो तो परिवार के सदस्य बाजार जाते हुए बच्चों को साथ ले जाएं। सामान की खरीददारी करते हुए वस्तुओं के ऊपर अंकित कीमत तथा दुकानदार द्वारा ली गई कीमत की जानकारी के लिए इनकी सहायता अवश्य लें। साथ ही किस ब्रांड का सामान सब से सस्ता है, इसकी जानकारी के लिए भी बच्चों से मदद लें। इस कार्य में बच्चों को मजा भी आएगा और उन के अंदर आत्मविश्वास की भावना भी पैदा होगी। साथ ही धन के समुचित उपयोग की क्षमता भी विकसित होगी। घर में आय कितनी आ रही है तथा उस का उपयोग कहां-कहां हो रहा है, यह बात बच्चों को जरूर बताएं। इस के जरिए उन्हें यह शिक्षा अवश्य दें कि कैसे बड़े होकर जब वे नौकरीपेशा हो जाएंगे, तो अपनी आमदनी का उपयोग और बचत कैसे करेंगे। संभव हो तो बच्चों के नाम पास के बैंक में आवर्ती जमा खाता खोल दें और उन्हें भेज कर या साथ ले जा कर उन्हीं से फार्म भरवाएं और धन जमा करवाएं। इस से उन के अंदर बचत की सही भावना पैदा होगी तथा बैंक के क्रियाकलापों की जानकारी भी होगी।

February 26th, 2017

 
 

टी-शर्ट पर पति की फोटो स्पेशल बर्थडे विश

लव बर्ड्स बिपाशा बसु और करण सिंह ग्रोवर में कितना प्यार है, यह जताने का दोनों ही कोई मौका नहीं छोड़ते। और करण सिंह ग्रोवर के बर्थडे की जो प्लानिंग बिपाशा ने की, उससे आपको इस प्यार का और अंदाजा हो जाएगा। बता दें कि […] विस्तृत....

February 26th, 2017

 

पिया अलबेला

जवाई राजा की जगह ऐसा सीरियल शुरू हो रहा है। जिसकी कहानी बिलकुल अलग है ‘पिया अलबेला’ यह एक ऐसी प्रेम कहानी है जिसमें अलग-अलग विचारों के दो लोग हैं। यह कहानी मेनिका और विश्वमित्र की पौराणिक कथा पर आधारित है। सही मायनों में इसकी […] विस्तृत....

February 26th, 2017

 

रेगिस्तान के बीच बसा शहर दुबई

विश्व मानचित्र पर दुबई की अहमियत एक ऐसे मुल्क के रूप में है, जो एक ओर आधुनिकता का जामा ओढ़े हुए है, तो दूसरी ओर अपनी प्राचीन संस्कृति व ऐतिहासिक धरोहरों को अपने आप में समेटे हुए है। यही वजह है कि यह मुल्क आज […] विस्तृत....

February 26th, 2017

 

हॉट स्लिम फिट लांग टाप

नापः लंबाई 31 इंच, चौड़ाई 16 इंच, बाजू 22 इंच कुल ऊन 436 ग्राम पिछला भाग लाल रंग की ऊन से 100 फंदे डालकर। एक सीधा एक उल्टे से बार्डर शुरू करें। एक सीधा एक उल्टा बुनते हुए 13 इंच तक लाल ऊन से बुनकर […] विस्तृत....

February 26th, 2017

 

बीयार्डो ने लांच किया नया स्ट्रांग होल्ड हेयर वैक्स

पुरुषों को स्टाइलिश बनाने के लिए बीयार्डो कंपनी ने नए साल में स्ट्रांग हेयर वैक्स लांच किया है। यह वैक्स न केवल अलग स्टाइल देता है। बल्कि बालों की जड़ों को भी मजबूत बनाता है। क्रिस्टल जेल तकनीक से सजा यह एडिशन बालों को साफ […] विस्तृत....

February 26th, 2017

 

मेहनत का महत्त्व

राहुल ने वह कप खरीद लिया और घर चला गया। रात को भी वह कप अपने साथ ले बिस्तर पर लेट गया और देखते-देखते उसे नींद आ गई। वह गहरी नींद में सो रहा था कि तभी उसे एक आवाज सुनाई दी… राहुल एक समझदार […] विस्तृत....

February 26th, 2017

 

सिनेमा में पहली बार – भाग 25

बालीवुड की फिल्में आमतौर पर शुक्रवार को ही रिलीज क्यों होती हैं शुक्रवार को फिल्में रिलीज करने की परंपरा हालीवुड से आई है। अमरीका में हफ्ते में काम करने का आखिरी दिन शुक्रवार होता है। उसी दिन साप्ताहिक वेतन मिलता है। दो दिन के वीकेंड […] विस्तृत....

February 26th, 2017

 

क्या आप जानते हैं

आसमान क्या है? कितना बड़ा है? यह ठोस है, तरल है या गैस है? आप जिसे आसमान कह रहे हैं वह बाहरी अंतरिक्ष का एक हिस्सा है। धरती से दिन में यह नीले रंग का नजर आता है। इसकी वजह है हमारा वातावरण जिससे टकराकर […] विस्तृत....

February 26th, 2017

 

पहेलियां

आंखें हैं पर अंधी हूं पैर हैं पर लंगड़ी हूं, मुंह है पर मौन हूं , बतलाओ मैं कौन हूं। **** खाली पेट बड़ी मस्तानी, लोग कहें पानी की रानी। **** मध्य कटे तो बाण बने, आदि कटे तो गीला। तीनों अक्षर साथ रहें , […] विस्तृत....

February 26th, 2017

 
Page 2 of 45312345...102030...Last »

पोल

क्या हिमाचली युवा राजनीतिक वादों से प्रभावित होते हैं?

View Results

Loading ... Loading ...
 
Lingual Support by India Fascinates