Divya Himachal Logo Mar 25th, 2017

उत्‍सव


सोच में एनी‌‌मिया

बाजार, बहस को भी फैशन में तबदील कर देता है। ऐसी स्थिति में कोई गंभीर मुद्दा ‘ स्टाइल स्टेटमेंट ’ बनकर रह जाता है और उससे जुड़ी जटिल समस्याओं पर हमारा ध्यान ही नहीं जाता। महिला दिवस के दिन कुछ ऐसी ही स्थिति दिखती है। इस दिन महिलाओं की स्वतंत्रता को लेकर आसमानी दावे करने वालों की बाढ़ जैसी आ जाती है। हैरत की बात यह है कि फैशनेबल बुद्धिजीवियों के राडार पर  एनीमिया जैसी घातक और व्यापक बीमारी नहीं आ पाती, जबकि 50 फीसदी से अधिक महिलाएं इससे पीडि़त हैं। यह सोच में एनीमिया का लक्षण है…

utsavनेशनल फैमिली हैल्थ सर्वे के अनुसार भारत में लगभग 55 फीसदी महिलाएं एनीमिया का शिकार हैं। गर्भावस्था के दौरान एनीमिया का शिकार होने वाली महिलाओं की संख्या 80 फीसदी तक पहुंच जाती है। इसका असर नवजात शिशुओं पर भी दिखता है। माताओं में एनीमिया के कारण 30 से 40 फीसदी तक नवजात बच्चे कम वजन और एनीमिया के शिकार होते हैं। यह कुपोषण से जुड़ी सबसे बड़ी समस्या है, लेकिन दुर्भाग्यवश महिला सशक्तिकरण की ऊंची-ऊंची बात करने वाला देश इस घातक बीमारी पर चर्चा करना भी मुनासिब नहीं समझता। हम जानते हैं कि शरीर की कोशिकाओं को सक्रिय रहने के लिए आक्सीजन की जरूरत होती है और आक्सीजन को शरीर के अलग-अलग भागों में रेड ब्लड सैल्स में मौजूद हीमोग्लोबीन द्वारा पहुंचाया जाता है। शरीर में आयरन की कमी से रेड ब्लड सैल्स और हीमोग्लोबीन का बनने की क्रिया प्रभावित होती है। इससे सैल्स को आक्सीजन नहीं मिल पाता जो कार्बोहाइड्रेट और वसा को जलाकर एनर्जी पैदा करने के लिए जरूरी है। जिससे बॉडी और ब्रेन की काम करने की क्षमता पर असर पड़ता है। इसी स्थिति को एनीमिया कहते हैं। कहने को तो यह छोटी सी बीमारी है, जिसे संतुलित आहार लेकर दूर किया जा सकता है, लेकिन इसका असर शरीर, दिमाग और व्यवहार सभी पर पड़ता है। इसी कारण व्यक्ति के साथ पूरा परिवार भी इससे प्रभावित होता है। एनीमिया किसी को कभी भी हो सकता है, लेकिन जो खासतौर से पहले से ही किडनी , डायबिटीज, हार्ट प्रॉब्लम, रुमेटाइड आर्थराइटिस जैसी बीमारियों का शिकार हैं, उनमें इसकी संभावना ज्यादा होती है। इसमें महिला होना एक बड़ा रिस्क फैक्टर है।

महिलाएं आसान शिकार

महिलाएं एनीमिया की अधिक शिकार होती हैं। डाइटिंग कर रही लड़कियां भी इसका शिकार हो जाती हैं। पीरियड्स के दौरान ज्यादा ब्लीडिंग होने से, गर्भाशय में ट्यूमर होने पर भी एनीमिया की आशंका बन जाती है। दूध पिलाने वाली महिलाओं में भी एनीमिया होने का खतरा रहता है। स्वस्थ महिला के शरीर में हीमोग्लोबिन का नॉर्मल लेवल 11 ग्राम/डीएल होता है। अगर यह लेवल 9-7 ग्राम/डीएल हो तो यह माइल्ड एनीमिया होता है। यह लेवल 6-4 ग्राम/डीएल हो तो उसे सीवियर एनीमिया कहते हैं, जिसमें तुरंत इलाज की आवश्यकता होती है। एनीमिया के लगातार बने रहने से तांत्रिका संबंधी दिक्कतें भी पैदा होती हैं। गंभीर होने की स्थिति में इसके कारण तनाव भी पैदा होता है। हार्ट बीट सही नहीं रहती है। एनीमिया की स्थिति में सांस जल्दी ही उखड़ जाती है और चक्कर आने की समस्या शुरू हो जाती है। इसके लगातार रहने पर कई गंभीर लक्षण भी नजर आ सकते हैं। अगर किसी को पीरियड्स के दौरान ब्लीडिंग अधिक हो तो तुरंत डाक्टर को दिखाएं, क्योंकि इससे शरीर में आयरन में तेजी से कमी आती है। अगर कोई महिला मां बनने वाली है, तो वह डाक्टर की सलाह से आयरन के सप्लीमेंट जरूर ले। समय से पहले जन्मे बच्चों में आयरन की कमी हो जाती है। नवजात बच्चों को भी पोषक आहार देने पर विशेष ध्यान देना चाहिए। एनीमिया का इलाज इसकी सीरियसनैस और कारणों पर निर्भर करता है। एनीमिया को ठीक होने में छह से नौ महीने का समय लगता है।  यदि खान-पान को ठीक रखा जाए तो एनीमिया पैदा होने की संभावना कम ही होती है। यह हमारी सोच और प्राथमिकताआें से जुड़ा मामला है। यदि हम सोच की एनीमिया को दूर कर सकें तो शरीर में एनीमिया का खत्म होना तय है। इसी कारण महिला दिवस को सोच की एनीमिया दूर करने के लिए एक महत्त्वपूर्ण अवसर के रूप में लिया जाना चाहिए।

          -डा.जयप्रकाश सिंह

March 12th, 2017

 
 

टीवी पर जाट की जुगणी

टीवी पर जाट की जुगणीभारतीय टेलीविजन के सबसे मशहूर यानी सोनी एंटरटेनमेंट में नया शो आ रहा है ‘जाट की जुगणी’ जल्द ही प्रसारित हो रहा है। ‘जाट की जुगणी’ मुन्नी और बिट्टू की कहानी है। और यह शो पंजाबी रस्मों पर आधारित है। यह कहानी पंजाब की पृष्ठ […] विस्तृत....

March 12th, 2017

 

सलमान खान को ट्रेनिंग देंगे हालीवुड के एक्शन हीरो

सलमान खान को ट्रेनिंग देंगे हालीवुड के एक्शन हीरोसुपरस्टार सलमान खान और कटरीना कैफ  की जोड़ी पांच साल के गैप के बाद एक बार फिर पर्दे पर साथ नजर आने वाली है। ‘टाइगर जिंदा है’ की शूटिंग के लिए 15 मार्च को ये सितारे ऑस्ट्रिया जा रहे हैं, जहां इसके कई सीन फिल्माए, […] विस्तृत....

March 12th, 2017

 

फिल्म रिव्यू

फिल्म रिव्यूकुछ ऐसी है ‘बद्रीनाथ की दुल्हनिया’ डायरेक्टर शशांक खेतान ने ‘हम्प्टी शर्मा की दुल्हनिया’ बनाने के कुछ समय बाद दुल्हनिया सीरीज की दूसरी फिल्म ‘बद्रीनाथ की दुल्हनिया’ लिखी और प्रोड्यूसर करण जौहर को सुनाई। करण भी इसके लिए झट से राजी हो गए। पिछली बार […] विस्तृत....

March 12th, 2017

 

होली के रंग और आपकी त्‍वचा

होली के रंग और आपकी त्‍वचाभारती तनेजा डायरेक्टर ऑफ एल्पस  ब्यूटी * होली के रंग हम सब की जिंदगी को खुशहाल और रंगीन बना देते हैं, लेकिन साथ ही साथ इसमें इस्तेमाल होने वाले केमिकल से हमारी स्किन भी रूखी हो जाती हैं। ऐसे में आप घर पर ही प्राकृतिक […] विस्तृत....

March 12th, 2017

 

होली के दिन दिल खिल जाते हैं रंगों में रंग मिल जाते हैं

होली के दिन दिल खिल जाते हैं रंगों में रंग मिल जाते हैंहोली रंगों का त्योहार है और दिन भर लोग रंगों में मस्त रहते हैं। शाम को भी रंगीला दिखने के लिए अब गुजराती परिधानों का कल्चर बढ़ने लगा है। होली पर पारंपरिक सफेद कुर्ती के साथ जींस पहनना अच्छा विकल्प है। आप चाहें तो ब्लू […] विस्तृत....

March 12th, 2017

 

नृत्य की नई स्मृति गढ़ती श्रुति

नृत्य की नई स्मृति गढ़ती श्रुतिसोलन की रहने वाली श्रुति गुप्ता ने बहुत कम आयु में बड़ा मुकाम हासिल किया है। दो वर्ष में दो लिम्का बुक ऑफ रिकार्ड में नाम दर्ज कर उन्होंने दुनिया भर में काफी सुर्खियां भी बटोरी हैं। अब उनका अगला लक्ष्य एवरेस्ट की चोटी पर […] विस्तृत....

March 12th, 2017

 

‘अनारकली ऑफ आरा’ को देख रो पड़ी सोनम

‘अनारकली ऑफ  आरा’  को देख रो पड़ी सोनमजल्द ही रिलीज होने वाली फिल्म ‘अनारकली ऑफ  आरा’  काफी में चर्चा है।   फिल्म के डायरेक्टर अविनाश दास ने एक इंटरव्यू के दौरान बताया कि  जब सोनम कपूर ने फिल्म देखी, तो वह रो पड़ी… कैसी है फिल्म की कहानी? फिल्म ‘अनारकली ऑफ  आरा’ उन […] विस्तृत....

March 12th, 2017

 

सिनेमा के 100 साल

सिनेमा के 100 सालसिघंम के एक्शन से रोहित को मिली पहचान रोहित शेट्टी हिंदी फिल्म उद्योग के एक निर्देशक हैं। रोहित निर्देशित प्रमुख फिल्में ‘गोलमाल- गोलमाल, रिटर्न्स, ऑल द बेस्टः फन बिगिन्स, गोलमाल 3, सिंघम और बोल बच्चन हैं। इनकी गिनती बालीवुड के सबसे सफल निर्देशकों में होती […] विस्तृत....

March 12th, 2017

 

नया सीरियल एक आस्था ऐसी भी

नया सीरियल एक आस्था ऐसी भी‘एक आस्था ऐसी भी’ नया सीरियल  स्टार प्लस में शुरू होने जा रहा है। इस नाटक में एक महिला है, जो भगवान के ऊपर विश्वास नहीं करती। यह कहानी एक नास्तिक महिला के चारों ओर घूमने की कहानी है। वह अपनी इच्छा के अनुसार अपना […] विस्तृत....

March 12th, 2017

 
Page 4 of 461« First...23456...102030...Last »

पोल

क्या भोरंज विधानसभा क्षेत्र में पुनः परिवारवाद ही जीतेगा?

View Results

Loading ... Loading ...
 
Lingual Support by India Fascinates