Divya Himachal Logo Jul 25th, 2017

कम्पीटीशन रिव्यू


प्रगति की केमिस्ट्री

परंपरागत सोच रखने वालों को भी अब यह समझ आ गया है कि केमिस्ट्री प्रयोगशाला के बाहर भी ढेरों अवसर पैदा कर रही है और इंडस्ट्री आधारित बेहतरीन जॉब प्रोफाइल्स उपलब्ध करवा रही है। ऐसे में भविष्य के लिहाज से यह एक सुरक्षित विकल्प है…

CEREERआज के दिन हम बहुत सी ऐसी चीजें लेते हैं, जो केमिकल प्रोसेस के जरिए बनी होती हैं। दवाई हो या कॉस्मेटिक्स सभी केमिकल प्रक्रिया के जरिए ही अपना स्वरूप पाते हैं। साइंस की एक प्रमुख ब्रांच होने के चलते केमिस्ट्री एक तरफ  भौतिकी तो दूसरी तरफ बायोलॉजी को लेते हुए सभी चीजों के निर्माण में अहम भूमिका निभाती है। वैसे केमिस्ट्री के जरिये जब आप तमाम प्रयोग कर कुछ नए तत्त्व बनाते हैं तो यह प्रक्रिया बहुत ही रोमांचकारी होती है। इस फील्ड में काम करने पर आपको पॉलिमर साइंस, फूड  प्रोसेसिंग, एनवायरन्मेंट मानिटरिंग, बायो टेक्नोलॉजी जैसे क्षेत्रों में करियर निर्माण का मौका मिलता है। साइंस के हरेक विषय की खासियत है कि वह अपनी अलग-अलग शाखाओं में करियर और रिसर्च के ढेरों बेहतरीन अवसर देता है। केमिस्ट्री भी ऐसा ही एक विषय है। हमारी रोजमर्रा की जिंदगी को प्रभावित करने वाला यह विज्ञान नौकरी के मौकों से भरपूर है। साथ ही परंपरागत सोच रखने वालों को भी अब यह समझ आ गया है कि केमिस्ट्री प्रयोगशाला के बाहर भी ढेरों अवसर पैदा कर रही है और इंडस्ट्री आधारित बेहतरीन जॉब प्रोफाइल्स उपलब्ध करवा रही है। ऐसे में भविष्य के लिहाज से यह एक सुरक्षित विकल्प है।

क्या है रसायन विज्ञान

यह विज्ञान की वह शाखा है, जिसमें पदार्थों के संघटन, संरचना, गुणों और रासायनिक प्रक्रिया के दौरान इसमें हुए परिवर्तनों का अध्ययन किया जाता है। संक्षेप में रसायन विज्ञान रासायनिक पदार्थों का वैज्ञानिक अध्ययन है।

वेतनमान

केमिस्ट्री के क्षेत्र में प्राइवेट सेक्टर में 20 से 30 हजार तक आरंभिक पैकेज मिलता है। निजी क्षेत्र में आपकी सैलरी आपके अनुभव और कार्यक्षमता पर निर्भर करती है। सरकारी क्षेत्र में 30 हजार से लेकर 50 हजार तक आरंभिक सैलरी मिल जाती है।

केमिस्ट्री के विभिन्न कोर्स

वर्तमान में केमिस्ट्री की कई ब्रांच चलाई जा रही हैं, जिसमें विभिन्न करियर ऑप्शन चुने जा सकते हैं। प्योर केमिस्ट्री में पीजी कर सीधे असिस्टेंट प्रोफेसर व लैब में जा सकते हैं। वहीं फार्मास्यूटिकल केमिस्ट्री, इंडस्ट्रियल केमिस्ट्री, एनेलिटिकल केमिस्ट्री में पीजी कर रिसर्च, इंडस्ट्रीज, लैबोरेटरी रिसर्च, ऑयल इंडस्ट्री, गैस इंडस्ट्री, आर्डिनेंस फैक्टरी,  ओएनजीसी और जीएसई तक में केमिस्ट्री के एप्लिकेंट नियुक्त हो सकते हैं। केमिकल की जांच करने के लिए ज्यादातर इंडस्ट्रीज अब एक केमिस्ट को जरूर नियुक्त करती है। इससे अब केमिस्ट्री का स्कोप काफी बढ़ गया है। करियर आप के कोर्स पर निर्भर है।

केमिस्ट्री में स्पेशलाइजेशन

आगे चलकर एनालिटिकल केमिस्ट्री, इनआर्गेनिक केमिस्ट्री, हाइड्रो केमिस्ट्री, फार्मास्यूटिकल केमिस्ट्री, पोलिमर केमिस्ट्री, बायो केमिस्ट्री, मेडिकल बायो केमिस्ट्री और टेक्सटाइल केमिस्ट्री में स्पेशलाइजेशन के जरिए आप एक मजबूत करियर की शुरुआत कर सकते हैं।

अवसर यहां भी

एनालिटिकल केमिस्ट, शिक्षक, लैब केमिस्ट, प्रोडक्शन केमिस्ट, रिसर्च एंड डिवेलपमेंट मैनेजर, आर एंड डी डायरेक्टर, केमिकल इंजीनियरिंग एसोसिएट, बायोमेडिकल केमिस्ट, इंडस्ट्रियल रिसर्च साइंटिस्ट, मैटीरियल टेक्नोलॉजिस्ट, क्वालिटी कंट्रोलर, प्रोडक्शन आफिसर और सेफ्टी हैल्थ एंड एन्वायरनमेंट स्पेशलिस्ट जैसे पदों पर काम कर सकते हैं। फार्मास्यूटिकल, एग्रोकेमिकल, पेट्रोकेमिकल, प्लास्टिक मेन्यूफैक्चरिंग, केमिकल मेन्यूफैक्चरिंगए फूड प्रोसेसिंग, पेंट मेन्यूफैक्चरिंग, टेक्सटाइल्स, फोरेंसिक और सिरेमिक्स जैसी इंडस्ट्रीज में पेशेवरों की मांग बनी हुई है।

रसायन विज्ञान और हमारा जीवन

मानव जीवन को समुन्नत करने के लिए रसायन विज्ञान का महत्त्वपूर्ण योगदान है। मानव जाति के भविष्य को सुरक्षित करने के लिए रसायन विज्ञान का विकास अनिवार्य है। यह तभी संभव होगा, जब आमजन इस विज्ञान के प्रति आकर्षित होगा। केमिस्ट्री के बिना तो साइंस की कल्पना भी नहीं की जा सकती।

क्या पढ़ना होगा

केमिस्ट्री में रुचि रखने वाले स्टूडेंट्स 12वीं कक्षा (साइंस) अच्छे अंकों से पास करने के बाद केमिकल साइंस में पांच वर्षीय इंटीग्रेटेड मास्टर्स प्रोग्राम का विकल्प चुन सकते हैं या फिर केमिस्ट्री में बीएससी, बीएससी (ऑनर्स) डिग्री कोर्स चुन सकते हैं। इसके बाद एमएससी और पीएचडी की उपाधि भी हासिल की जा सकती है।

रसायन विज्ञान की शाखाएं

पदार्थों के अध्ययन के अनुसार रसायन विज्ञान की शाखाओं में कार्बनिक रसायन, अकार्बनिक रसायन, जैव रसायन, भौतिक रसायन और विश्लेषणात्मक रसायन आदि प्रमुख हैं। कार्बनिक रसायन में कार्बनिक पदार्थों, अकार्बनिक रसायन में अकार्बिनक पदार्थों, जैव रसायन में सूक्ष्म जीवों में उपस्थित पदार्थों, भौतिक रसायन में पदार्थ की बनावट, संघटन और उसमें सन्निहित ऊर्जा और विश्लेषणात्मक रसायन में नमूने के विश्लेषण का अध्ययन किया जाता है ताकि उसकी बनावट और संरचना का पता चल सके।

प्रमुख संस्थान

* हिमाचल प्रदेश यूनिवर्सिटी शिमला (हिप्र)

* राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय धर्मशाला, हिप्र

* राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय बिलासपुर, हिप्र

* यूनिवर्सिटी ऑफ  मुंबई, मुंबई

* दिल्ली यूनिवर्सिटी, दिल्ली

* सेंट जेवियर्स कालेज, मुंबई

* कोचीन यूनिवर्सिटी ऑफ  साइंस एंड टेक्नोलॉजी, केरल

* इंडियन इंस्टीच्यूट ऑफ  टेक्नोलॉजी, खड़गपुर

* लोयोला कालेज, चेन्नई

केंद्रीय विज्ञान भी है रसायन विज्ञान

रसायन विज्ञान को केंद्रीय विज्ञान भी कहते हैं। इसकी वजह यह है कि यह दूसरे विज्ञानों जैसे खगोल विज्ञान, भौतिक विज्ञान, पदार्थ विज्ञान, जीव विज्ञान और भू-विज्ञान को जोड़ता है।

अध्यापन भी है बेहतर विकल्प

अगर आपने केमिस्ट्री से पीजी व नेट का एग्जाम क्वालिफाई कर लिया है तो आपके पास कई यूनिवर्सिटीज व कालेजेज में असिस्टेंट प्रोफेसर बनने के मौके हैं। अध्यापन के क्षेत्र में भी केमिस्ट्री में अपार संभावनाएं हैं। अध्यापन के जरिए आप इस क्षेत्र में बेहतर साइंटिस्ट तैयार कर सकते हैं।

व्यापक क्षेत्र

रसायन विज्ञान का क्षेत्र बहुत व्यापक है तथा दूसरे विज्ञानों के समन्वय से प्रतिदिन विस्तृत होता जा रहा है। परिणामस्वरूप आज हम भौतिक एवं रसायन भौतिकी, जीव रसायन, शरीर क्रिया रसायन, सामान्य रसायन, कृषि रसायन आदि अनेक नवीन उपांगों का इस विज्ञान में अध्ययन करते हैं। विज्ञान का दायरा बढ़ता जा रहा है, तो इसके साथ रसायन विज्ञान का भी विस्तार हुआ है।

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !

July 19th, 2017

 
 

रवि शास्त्री को क्रिकेट की कमान

रवि शास्त्री को क्रिकेट की कमानरवि शास्त्री का जन्म मुंबई में 27 मई, 1962 को हुआ। वहीं के डॉन बास्को हाई स्कूल माटुंगा से इन्होंने अपनी पढ़ाई की। वह अपने स्कूल में अकेले ऐसे लड़के थे, जो क्रिकेट में रुचि रखते थे। शास्त्री ने जिस कालेज में अध्ययन किया वहां […] विस्तृत....

July 19th, 2017

 

हिमाचली पुरुषार्थ : पर्यावरण को पेड़ों की पोशाक पहनाते नयन सिंह

हिमाचली पुरुषार्थ : पर्यावरण को पेड़ों की पोशाक पहनाते नयन सिंहपर्यावरण बचाओ पेड़ उगाओ के नाम पर सरकार प्रति वर्ष करोड़ों रुपए आम जनता को जागरूक करने के लिए खर्च कर रही है, परंतु कनोग निवासी नयन सिंह ने ग्लोबल वार्मिंग की गंभीरता को देखते हुए तथा पेड़-पौधों से लगाव के चलते 60 के दशक […] विस्तृत....

July 19th, 2017

 

टीआर अभिलाषी मेमो. इंस्टीच्यूट ऑफ इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी

टीआर अभिलाषी मेमो. इंस्टीच्यूट ऑफ इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजीडा. आरके अभिलाषी चेयरमैन प्रदेश के तकनीकी क्षेत्र में उल्लेखनीय योगदान देने वाला अभिलाषी गु्रप का टी आर अभिलाषी मेमोरियल इंस्टीच्यूट ऑफ इंजीनियरिगं एंड टेक्नोलॉजी आज हिमाचल ही नही, बल्कि उत्तर भारत में इंजीनियरिंग की एजुकेशन देने वाले संस्थानों में एक ब्रांड बनकर उभरा है। […] विस्तृत....

July 19th, 2017

 

मात्र परीक्षा पास करने के लिए ही न पढ़ें

मात्र परीक्षा पास करने के लिए ही न पढ़ेंडा. रघुवीर बरसौला केमिस्ट्री विभाग, राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय, धर्मशाला केमिस्ट्री में करियर से संबंधित विस्तृत जानकारी प्राप्त करने के लिए हमने डा. रघुवीर बरसौला से बातचीत की। प्रस्तुत हैं बातचीत के प्रमुख अंश… केमिस्ट्री में करियर का क्या स्कोप है? वर्तमान युग विज्ञान का युग […] विस्तृत....

July 19th, 2017

 

पीईटीएन

पीईटीएनयूपी विधानसभा के चालू सत्र के दौरान सदन में विस्फोटक मिलने से प्रदेश की सुरक्षा व्यवस्था की पोल तो खुली ही, पर इसके साथ ही पीईटीएन विस्फोटक भी चर्चा में आया। विधानसभा के अंदर सफेद रंग का संदिग्ध पाउडर मिलने से हड़कंप मच गया था। […] विस्तृत....

July 19th, 2017

 

1880 में हुआ बैंटनी कैसल का निर्माण

बैंटनी भवन तब के सिरमौर के महाराजा का गर्मियों का निवास महल था, जिसका निर्माण 1880 ई. में हुआ था। इसका नाम गवर्नर जनरल लॉर्ड बैंटिक के नाम से लिया गया है, जो समीपवर्ती ग्रैंड होटल के संकुल में रहता था इसलिए सारी पहाड़ी को […] विस्तृत....

July 19th, 2017

 

करियर रिसोर्स

एनिमेशन कार्टूनिंग का कोर्स करवाने वाले संस्थानों बारे जानकारी दें। — मनोज राणा, संगड़ाह एनिमेशन कार्टूनिंग में युवाओं के लिए करियर के अच्छे स्कोप हैं। एनिमेशन कार्टूनिंग का कोर्स कराने वाले प्रमुख संस्थान हैं दिल्ली कालेज ऑफ  आर्ट, तिलक मार्ग, नई दिल्ली, सर जेजे स्कूल […] विस्तृत....

July 19th, 2017

 

भौगोलिक कठिनाई के बावजूद मेहनती हैं हिमाचली

जमीन के नीचे रहने वाले जीव-जंतुओं में यहां कई प्रकार के सांप पाए जाते हैं, जो अति जहरीले खड़पा व संखचूड़ आदि से लेकर कम जहरीले तक सांप भी हैं। भौगोलिक कठिनाई के बावजूद यहां के लोग परिश्रमी हैं और व्यापारिक प्रकृति के हैं… जीव […] विस्तृत....

July 19th, 2017

 

लगन ही खोलती है सफलता के द्वार

गुलाब और कांटों का अच्छा दोस्ताना है। दोस्ताने को आप किस नजर से देखते हैं,यह आप पर निर्भर है। कोई कहता है गुलाब के साथ कांटे हैं, कोई कहता है कांटों में ही गुलाब खिलते हैं। आपकी सोच से गुलाब को फर्क नहीं पड़ता… शिक्षक […] विस्तृत....

July 19th, 2017

 
Page 1 of 51012345...102030...Last »

पोल

क्या कोटखाई रेप एवं मर्डर केस में पुलिस ने असली अपराधियों को पकड़ा है?

View Results

Loading ... Loading ...
 
Lingual Support by India Fascinates